उत्पाद निर्माणटूथब्रश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें | How to Start Toothbrush...

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें | How to Start Toothbrush Making Business in hindi

टूथब्रश निर्माण व्यवसाय (toothbrush making business) की विस्तृत जानकारी, टूथब्रश का महत्व, व्यवसाय शुरू करने के लिए कुल लागत का आंकलन, टूथब्रश बनाने की प्रक्रिया, टूथब्रश बनाने का व्यवसाय का पंजीकरण, पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाला बिजनेस, टूथब्रश व्यवसाय में होने वाला मुनाफा

आज कोई भी ऐसा नहीं होगा जो अपने दांतों की सफाई के लिए टूथब्रश का इस्तेमाल न करता हो, टूथब्रश (toothbrush) जिसका इस्तेमाल आज प्राथमिकता पर हर व्यक्ति द्वारा किया जाता है, और बाजार में भी अच्छे टूथब्रश की मांग/डिमांड हमेशा बनी ही रहती है।

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय (toothbrush making business) या व्यापार एक सदाबहार चलने वाला सफल बिजनेस (evergreen business) है, क्योकि चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा यह सलाह दी जाती है कि उपयोगकर्ता अपने टूथब्रश को प्रत्येक 03 महीनों में अनिवार्य रूप से बदल दें अन्यथा ये टूथब्रश दांतों को साफ करने के स्थान पर दांतों को क्षति भी पहुंचा सकते हैं.

बढती उपयोगिता एवं आवश्यक प्राथमिक जरूरतों के कारण टूथब्रश बनाने का व्यवसाय (toothbrush making business) एक लम्बे समय का उच्च लाभ देने वाला व्यवसाय या कारोबार साबित हो चुका है, आज मार्केट में कई कम्पनियां हैं जो टूथब्रश का निर्माण (toothbrush manufacturing) बड़े स्तर पर कर रही हैं और अपने इस कारोबार से अच्छा मुनाफा भी कमा रही हैं.

टूथब्रश-बनाने-का-व्यवसाय-Toothbrush-Making-Business
टूथब्रश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें | How to Start Toothbrush Business in hindi

असल में मौजूदा बाजार में टूथब्रश की खपत के आंकलन से यह पूरी तरह से स्पष्ट हो रहा है कि टूथब्रश बनाने का व्यवसाय (toothbrush business) शुरू करना किसी भी इच्छुक उद्यमी या कारोबारी के लिए एक सफल व दीर्घकालिक लाभ कमाने का विकल्प सिद्ध हो रहा है. जिसे  छोटी सी लागत लगाकर आसानी से शुरू किया जा सकता है.

टूथब्रश व्यवसाय का महत्व (Importance of toothbrush business)-

आज बाजार में मुख्य रूप से 03 प्रकार के टूथब्रश (different types of toothbrush) दिखाई देते या मिलते हैं, मसलन नरम (soft) टूथब्रश, सामान्य (normal) टूथब्रश और सख्त (hard) टूथब्रश और इसमें भी दो तरह के टूथब्रश बहुत ही कॉमन हैं-

  1. बच्चों के टूथब्रश (kids toothbrush)
  2. वयस्कों के टूथब्रश (adult toothbrush)

उपयोगकर्ता अपनी इच्छानुसार इनमें से किसी एक तरह के टूथब्रश का चुनाव करता है, अपनी बढ़ती उपयोगिता के कारण आज टूथब्रश बनाने का व्यवसाय व कारोबार दिन प्रति दिन फलता-फूलता जा रहा है, जो टूथब्रश बनाने के व्यवसाय व बिजनेस में बड़े लाभ को इंगित करता है।

यदि आप टूथब्रश बनाने का व्यवसाय (toothbrush business) शुरू करना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए पूरी तरह से मददगार साबित जरूर होगा।

व्यवसाय शुरू करने के लिए आवश्यक स्थान का चुनाव (Required area for starting toothbrush business)-

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए कम से कम 1500 वर्ग फुट के स्थान की आवश्यकता होती है, जहां लगभग 1300 वर्ग फुट स्थान पूरी तरह से धूल, मिट्टी, वर्षा व वायु प्रदूषण से कवर/सुरक्षित हो।

आपको ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए जो खुदरा बाजार क्षेत्र से थोड़ा हट कर हो लेकिन सामान्य पहुंच से ज्यादा दूर न हो। यदि यह स्थान किसी इंडस्ट्रियल क्षेत्र के अंतर्गत आता हो तो सबसे उत्तम है।

व्यवसाय में बिजली की व्यवस्था (Required electricity)-

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय या कारोबार शुरू करने के लिए आपको अपने कार्य स्थल पर बिजली व पानी आदि की व्यवस्था करना होता है, टूथब्रश की निर्माण फैक्ट्री (toothbrush manufacturing factory plant) लगाने या शुरू करने के लिए 20 वॉट के बिजली कनेक्शन की जरूरत होती है। यह वैधुत क्षमता मशीनरी चयन के आधार पर घट अथवा बढ़ सकती है।

टूथब्रश व्यवसाय शुरू करने के लिए मशीनरी (Required Machinery for toothbrush making)-

टूथब्रश बनाने के लिए ……. मशीनरी की जरूरत होती है।

  1. टूथब्रश हैंडल मेकिंग और रबर कोटिंग मशीन (Injection Molding Machine)
  2. ब्रिस्टल फिलिंग मशीन
  3. टूथब्रश हैंडल व ब्रिस्टल ट्रिमिंग मशीन
  4. प्लास्टिक सील पैकिंग मशीन

मशीने कहां से लें (where to buy)-

toothbrush manufacturing plant में सभी मशीने ऑटोमेटिक ही आती हैं। ये मशीने आप अपने लोकल मशीनों के मार्केट से खरीद सकते हैं। यदि आपके क्षेत्र में ये मशीने नहीं मिल पा रही हैं तो इन मशीनों को आसानी से ऑनलाइन नीचे बताई गई वेबसाइटों से भी खरीदा जा सकता है।

  • www.indiamart.com
  • www.alibaba.com
  • www.tradeindia.com

टूथब्रश व्यवसाय शुरू करने के लिए रॉ मटेरियल (Raw Materials)-

Toothbrush Business में मुख्य —- तरह के रॉ मटेरियल्स का उपयोग होता है। ये रॉ मटेरियल हैं-

  1. प्लास्टिक दाना
  2. नायलॉन के धागे (फाइबर)

कहां से लें-

टूथब्रश बनाने के व्यवसाय में सभी रॉ मटेरियल लोकल मार्केट से आसानी से खरीद सकते हैं। यदि आपके क्षेत्र में ये रॉ मटेरियल नहीं मिल पा रहे हैं तो इसे आप ऑनलाइन नीचे बताई गई वेबसाइटों से भी खरीद सकते है-

  • www.indiamart.com
  • www.alibaba.com या फिर
  • आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते हैं।

टूथब्रश व्यवसाय में मैनपावर की जरूरत (Required Manpower)-

टूथब्रश बनाने के व्यवसाय में 04 मैनपावर की जरूरत होती है-

  1. मशीनों को आपरेट (Machine Operator) करने में केवल 01 मैनपावर ही लगती है,
  2. यदि पैकिंग आदि का कार्य मैनुअल तरीके से करते या कराते हैं तो 01 मैनपावर की जरूरत लगती है।
  3. तैयार उत्पाद की मार्केटिंग के लिए 01 मैनपावर (मार्केटर)
  4. कार्य स्थल की सफाई आदि व तैयार उत्पाद को सुव्यवस्थित रखने के लिए 01 मैनपावर

टूथब्रश बनाने की विधि (Process of toothbrush making)-

टूथब्रश बनाने की विधि बहुत ही आसान है क्योंकि टूथब्रश का निर्माण पूरी तरह से ऑटोमेटिक मशीन से किया जाता है।

  • सबसे पहले प्लास्टिक दाना (रॉ मटेरियल) को मशीन के होपर में डाल दिया जाता है, जो इस रॉ मटेरियल को गर्म कर पूरी तरह से पिघला देता है और फिर ब्रश के सांचों में ढाल देता है।
  • सांचों में ढलने के कुछ समय बाद बने हुए टूथब्रश के हैंडल ठंडे हो जाने के बाद मशीन से बाहर निकाल लिए जाते हैं। अब इन हैंडलों पर लगे अतिरिक्त प्लास्टिक की ट्रिमिंग की जाती है, साथ ही ब्रिस्टल लगाने के लिए टूथब्रश के ऊपरी छोर पर छेद किए जाते हैं, ट्रिमिंग के दौरान यदि आप चाहे तो इच्छानुसार डिजाइन भी बना सकते हैं।
  • हैंडलों ट्रिमिंग हो जाने के बाद हैंडलों पर पैटर्न व डिजाइन के लिए रबर की कोटिंग की जाती है, जो देखने काफी सुंदर और आकर्षक लगती है। अब तक टूथब्रश का प्रारम्भिक ढांचा तैयार हो चुका है।

इसे भी पढ़ें- बिजनेस में फेल होने के कारण

  • इसके बाद फिलिंग मशीन की मदद से टूथब्रश के सिरे पर ब्रिस्टल (नायलॉन के धागे-फाइबर) लगाए जाते हैं। फिलिंग मशीन नायलॉन के धागों को एक निश्चित मात्रा में ही लगाती है, यहां आप कई रंग के नायलॉन के धागों (फाइबर) का उपयोग कर सकते हैं, यह सभी काम पूरी तरह ऑटोमेटिक तरीके से होता है।
  • अमूमन आज बाजार में मौजूद एक टूथब्रश में अधिकतम 02 या 03 रंगों के नायलॉन के धागों (फाइबर) का प्रयोग किया जाता है।
  • टूथब्रश पर ब्रिस्टल (नायलॉन के धागे-फाइबर) लग जाने के बाद टूथब्रश पर लग चुके नायलॉन के धागों को एक समान करने या पैटर्न बनाने के लिए फिर से ट्रिमिंग (काट-छाट) करना होता है।
  • ट्रिमिंग के complete होते ही आपका उत्पाद टूथब्रश पूरी तरह से प्रयोग में लिए जाने को तैयार हो जाता है। इसके बाद तैयार टूथब्रश को पैकिंग के लिए भेज दिया जाता है।

व्यवसाय का पंजीकरण (Business Registration)-

किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक है. पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन के बाद ही आप अपने उत्पाद का प्रचार मार्केट/बाजार में कर सकते हैं. पंजीकरण कराने के लिए आपको सबसे पहले अपनी कम्पनी/एजेन्सी या फर्म के नाम से एक बैंक खाता खोलना होता है, इसके बाद भारत सरकार द्वारा निर्धारित प्रमाणों से प्रमाणन करना होता है। ये प्रमाणन हैं-

  1. MSME उद्यमी पोर्टल
  2. GST No. (टैक्स पंजीकरण)
  3. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड NOC प्रमाण पत्र
  4. कचरा प्रबंधन नगर निगम NOC प्रमाण पत्र
  5. Trade License
  6. IEC प्रमाण पत्र (एक्सपोर्ट के लिए)

टूथब्रश की पैकिंग (toothbrush packing)-

एक शानदार और सुन्दर पैकिंग किसी भी ग्राहक को अपनी ओर आकर्षित कर सकती है और उस पर यदि आपका उत्पाद उच्च गुणवत्ता का है तो जल्द ही मार्केट/बाज़ार में छा भी सकता है. किसी भी Product की पैकिंग उसके ब्रांड वैल्यू को बनाने और बढ़ाने का काम करती है.

पैकिंग की डिजाइन के लिए किसी जानकार ग्राफिक्स डिजाइनर की सहायता जरूर लें। साथ ही उत्पाद बनाने में उपयोग किए गए घटकों का उल्लेख करने के साथ स्वास्थ्य संबंधी कोटेशन आदि प्राथमिक तौर पर उत्पाद की पैकेजिंग पर अनिवार्य रूप से छपवाएँ।

टूथब्रश की पैकिंग छपवाने के लिए आप सबसे पहले अपने क्षेत्रीय प्रिंटर्स/मुद्रक से संपर्क करें, यदि आपके क्षेत्र में प्रिंटिंग आदि का काम नहीं होता है तो पैकिंग बनवाने के लिए आप इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइटो की मदद ले सकते/सकती है.

टूथब्रश बिजनेस में टूथब्रश की पैकिंग में 02 घटकों की जरूरत होती है-

  1. प्री मोल्ड प्लास्टिक कवर पैकिंग (बाजार में आसानी से उपलब्ध)
  2. पैकिंग कागज जिस पर मोल्ड प्लास्टिक पैकिंग को सील पैक किया जाता है।

अमूमन आज बाजार में दो तरह की टूथब्रश पैकिंग दिखाई देती है-

  1. सेपरेट सिंगल टूथब्रश पैकिंग (बेहतर फिनिश)
  2. दर्जन लड़ी के हिसाब से सिंगल पैकिंग टूथब्रश (bulk फिनिश)

आप दोनों में से किसी भी पैकिंग का इस्तेमाल अपनी सुविधा व इच्छानुसार कर सकते हैं।

टूथब्रश व्यवसाय की मार्केटिंग (Business Marketing)-

Product तैयार हो जाने के बाद सबसे अहम काम होता है अपने उत्पाद के प्रति समाज के लोगों जागरूक करना मतलब अपने उत्पाद का प्रचार-प्रसार या मार्केटिंग करना। तो इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने लोकल बाजार के किराना दुकानों और स्टोर्स के कारोबारियों से संपर्क करें, साथ ही लोकल बाजार के कई स्थानों पर पोस्टर आदि चिपकवा सकते हैं,

हालांकि टूथब्रश जैसे उत्पाद की मार्केटिंग में सबसे अहम भूमिका उत्पाद की गुणवत्ता की होती है, क्योंकि टूथब्रश जैसा उत्पाद आज हर एक इंसान प्राथमिकता पर उपयोग में लेता है, इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि उत्पाद कि गुणवत्ता बेहतरीन हो।

टूथब्रश जैसे उत्पाद की मार्केटिंग आप अपने आस-पास की किराना दुकानों से ही शुरू करें, चूँकि आपके आस-पास की किराना दुकानें आपको अच्छे से जानती होंगी, जिससे आपके माल के खपत होने कि संभावना बढ़ सकती है। इसके साथ ही थोक बाजार के व्यापारियों से भी थोक बिक्री हेतु संपर्क कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- सफल कारोबारी की ख़ास बातें

प्रचार के लिए आप बड़े स्तर के विज्ञापन (अखबार पृष्ठ, पत्रिका पृष्ठ और digital marketing) का भी सहारा ले सकते हैं। साथ ही टूथब्रश का व्यवसाय ऑनलाइन भी कर सकते हैं, जहां आपको एक वेबसाइट डिजाइन करनी या करवानी होगी, एक वेबसाइट बनाने या बनवाने का सालाना खर्च लगभग 10,000 से 25,000 तक आ सकता है।

टूथब्रश निर्माण व्यवसाय की कुल लागत (Business Cost)-

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए इच्छुक उद्यमी व व्यवसायी को कम से कम 06 से 11 लाख रुपए की पूंजी का निवेश करना होता है। इस लागत में टूथब्रश बनाकर तैयार करने वाली मशीने, कार्य स्थल का किराया, बिजली खपत का व्यय व बाकी सभी पंजीकरण व्यय आदि शामिल होते हैं।

साथ ही मैनपावर से संबंधित लागत भी आंशिक रूप से सम्मिलित है। टूथब्रश बिजनेस की यह लागत मशीनों व स्थान चयन के चयन आधार पर घट अथवा बढ़ सकती है।

कितने तरीकों से टूथब्रश मैन्युफैक्चरिंग व्यवसाय शुरू कर सकते हैं-

आज बाजार/मार्केट में 02 तरीको से टूथब्रश का व्यवसाय किया जाता है और दोनों ही तरीके सफल और अच्छा मुनाफा देने वाले हैं-

  1. निर्माता बनकर (Manufacturing Unit लगाकर)
  2. सप्लायर बनकर

निर्माता बनकर (Manufacturing Unit लगाकर)-

यदि आपके पास tooth brush making business में invest करने के लिए पर्याप्त पूंजी है तो आप Manufacturing Unit लगाकर टूथब्रश बनाने का व्यवसाय ही शुरू करें। यह कारोबार/व्यापार का सबसे उत्तम तरीका है।

सप्लायर बनकर-

यदि आपके पास टूथब्रश बनाने के व्यापार या कारोबार अथवा उद्यम में निवेश के लिए पर्याप्त पूंजी नहीं है तो आप टूथब्रश के कारोबार को छोटे स्तर पर सप्लायर बनकर भी शुरू कर सकते हैं, छोटे स्तर पर आप निर्माता (Manufacturing Unit) से बने बनाए टूथब्रश को bulk में खरीदकर उस पर अपनी पैकिंग व नाम आदि की छपाई कराकर बाजार में उतार सकते हैं।

नोट- बाजार में उत्पाद उतारने से पहले अपनी कंपनी या फ़र्म का पंजीकरण जरूर करा लें।

टूथब्रश का मूल्य निर्धारण-

किसी भी नए उत्पाद को बाजार में बिक्री करने के लिए सबसे अहम भूमिका निभाता है उसका मूल्य और यह बात सार्वभौम सत्य है. आज जिस तरह से मंहगाई बढ रही है, उसे ध्यान में रखते हुए आपके उत्पाद का मूल्य इतना होना चाहिए, जिसे समाज का हर वर्ग आसानी से खरीद सके.

इसे भी देखें- कील बनाने का व्यवसाय

इसलिए बाजार और मंहगाई को देखते हुए आप अपने उत्पाद का मूल्य बाजार में मौजूद अन्य उत्पादों की अपेक्षा कुछ कम ही रखें लेकिन उत्पाद की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें, बेहतरीन गुणवत्ता के कारण आपका उत्पाद धीरे-धीरे मार्केट/बाजार में प्रसिद्ध होने लगेगा और जिससे आप अपने कारोबार को छोटे से बड़े स्तर पर विस्तारित कर सकते हैं। कम मूल्य पर उत्पाद बेचने की शुरुवात आपको अपने लोकल मार्केट से ही करनी चाहिए।

टूथब्रश कारोबार शुरू करने के लिए लोन (Loan for Business)-

अपनी फर्म/कंपनी या एजेंसी के रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण के तहत आप किसी भी सरकारी बैंक से लोन के लिए apply कर सकते हैं. जो आपको आपके व्यवसाय स्तर के आंकलन के मुताबिक लोन दे सकता है.

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा संचालित प्रधानमंत्री रोजगार योजना, कौशल विकास योजना, मुद्रा लोन आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है. इसके लिए आपको अपनी कंपनी/एजेन्सी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजना के तहत आवेदन करना होगा.

सरकारी योजनाओं के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने स्थानीय/लोकल सरकारी बैंक की शाखा से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

टूथब्रश कारोबार में मुनाफा (Profit in Toothbrush Business)-

व्यापार में मुनाफा हर एक व्यवसायी, उद्यमी और कारोबारी को सबसे उच्च स्तर का प्राप्त करने की अभिलाषा होती है, मौलिक तौर पर मुनाफा शब्द एक ऐसा शब्द है जो हर किसी को एक नई प्रेरणा देता है.

अमूमन अच्छी गुणवत्ता के टूथब्रश पर पैकिंग सहित लागत प्रति पीस लगभग 3 से 15 रुपए तक आती है जिसे खुदरा मार्केट में 15 से 60 रुपए प्रति पीस तक बेचा जाता है।

जहां आपका मुनाफा या लाभ 10 से 45 रूपए प्रति पीस के हिसाब से होता है. जैसे-जैसे आपके उत्पाद की खपत बढती है आपका मुनाफा भी गुणन के आधार पर बढ़ता जाता है, आप टूथब्रश के कारोबार से 30,000 से लेकर 01 लाख रुपए या इससे भी ऊपर हर महीने कमा सकते हैं.

अन्य लेख-

इसे भी पढ़ें- कम लागत में शुरू करें मशरूम की खेती

FAQ.

टूथब्रश किस चीज से बनता है?

अमूमन दैनिक उपयोग में लिया जाने वाला टूथब्रश प्लास्टिक से बनाया जाता है. इसके अलावा लकड़ी से बने टूथब्रश भी बाजार में देखने को मिलते हैं.

टूथब्रश बनाने की मशीन कितने की आती है?

दैनिक उपयोग में लिए जाने वाले टूथब्रश को बनाने में टूथब्रश हैंडल मेकिंग और रबर कोटिंग मशीन (Injection Molding Machine), ब्रिस्टल फिलिंग मशीन, टूथब्रश हैंडल व ब्रिस्टल ट्रिमिंग मशीन, प्लास्टिक सील पैकिंग आदि मशीनों का उपयोग किया जाता है. क्षमता के आधार पर इन मशीनों की कीमत अलग-अलग होती है.

इलेक्ट्रिक टूथब्रश क्या है?

इलेक्ट्रिक टूथब्रश एक टूथब्रश ही है जिसे दांतों को तेजी से साफ करने के लिए उपयोग में लिए जाता है. इलेक्ट्रिक टूथब्रश में एक मोटर द्वारा ब्रिसल आगे-पीछे या रोटेशन-ऑसिलेशन गति/तरीके से काम करते है। ब्रिसल की यह गति ध्वनि की गति से थोड़ी नीचे की गति होती है।

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो टूथब्रश बनाने के व्यवसाय को करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘टूथब्रश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें’ से टूथब्रश व्यवसाय, व्यापार और कारोबार के बारे में पूरी जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए.” 

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular