उत्पाद निर्माणकम लागत में कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करें |...

कम लागत में कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करें | Disinfectant Toilet Cleaner Making Business at Low Cost

टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय (Disinfectant Toilet Cleaner Making Business): आज हमारा समाज जैसे-जैसे स्वच्छता के प्रति जागरूक हो रहा है, वैसे-वैसे समाज का स्वच्छता के प्रति झुकाव बढ़ता जा रहा है. जिससे लोगो के बीच स्वच्छता से सम्बंधित उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों की मांग बढ़ रही है.

ऐसे में बढती जरूरतों को देखते हुए स्वच्छता उत्पाद जैसे- शैम्पू, साबुन, हैंडवाश, डिटर्जेंट तथा बाथरूम क्लीनर व टॉयलेट क्लीनर आदि को बनाने का व्यवसाय इच्छुक उद्यमी के लिए एक अच्छी आय बनाने का बेहतर विकल्प साबित हो सकता है.

वर्तमान आधुनिक बाजार में बाथरूम/टॉयलेट क्लीनर का व्यवसाय एक अच्छा business plan साबित हो सकता है. तो प्रश्न यह उठता है कि टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय (Disinfectant Toilet Cleaner Making Business) को  कम लागत में स्थापित करने के लिए इच्छुक उद्यमी को कौन-कौन से घटकों व तथ्यों पर विचार करने की आवश्यकता है?

टॉयलेट-क्लीनर-बनाने-का-व्यवसाय-Disinfectant-Toilet-Cleaner-Making-Business-at-Low-Cost

Disinfectant Toilet Cleaner Making Business plan को समझने से पहले इच्छुक उद्यमी को यह समझना जरूरी है कि आखिर टॉयलेट क्लीनर कितने प्रकार का होता है? साथ ही मौजूदा मार्केट में किस प्रकार के टॉयलेट क्लीनर की खपत अधिक मात्रा में होती है? ऐसे ही टॉयलेट क्लीनर से सम्बंधित कई प्रश्नों का समाधान पाने के लिए पूरा पोस्ट जरूर पढ़ें. तो चलिए शुरू करते हैं-

अनुक्रमिका

कितने प्रकार के टॉयलेट क्लीनर (Toilet Cleaner) बाजार में मिलते हैं?

मौजूदा बाजार में मूलरूप से 02 तरह के कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर देखने को मिलते हैं-

  1. नीले रंग का टॉयलेट क्लीनर (सामान्यत: इसी टॉयलेट क्लीनर का उपयोग बहुतायत की दर पर किया जाता है)
  2. हरे रंग का टॉयलेट क्लीनर (इसे मैजिक टॉयलेट क्लीनर भी कहा जाता है)

यह मार्केटिंग और उत्पाद विविधता के लिहाज से एक innovative business idea है, उपयोगिता की दृष्टी से मैजिक टॉयलेट क्लीनर नीले रंग के टॉयलेट क्लीनर के समकक्ष होता है.

टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए वांछित स्थान (Required Area)-

किसी भी व्यवसाय को शुरू करने अथवा उसकी फैक्ट्री स्थापित करने के लिए एक निर्धारित स्थान का होना आवश्यक है. यह चयनित स्थान ही आपके व्यवसाय के लिए पहली ब्रांडिंग का काम करता है. टॉयलेट क्लीनर बनाने के व्यवसाय को दो स्तरों पर आसानी से शुरू किया जा सकता है. ये स्तर हैं-

बड़े स्तर पर (Big Scale)-

बड़े स्तर पर टॉयलेट क्लीनर की Manufacturing शुरू करने के लिए कम से कम 2,000 वर्ग फुट के स्थान या जगह की जरूरत होती है, जहां सभी आवश्यक मशीनरी को इन्स्टाल करना, रॉ मटेरियल और तैयार उत्पाद/माल को सुरक्षित रखने का स्थान सुनिश्चित किया गया हो. साथ आपके कार्य स्थल में बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना अनिवार्य है.

छोटे स्तर या घर से (Small Scale)-

छोटे स्तर या घर से टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए कम से कम 150 से 800 वर्ग फुट के स्थान की जरूरत होती है. जहां टॉयलेट क्लीनर की सारी Manufacturing process हाथों से की जाती है. साथ ही तैयार माल को संरक्षित रखने के स्थान का भी सुनिश्चित किया जाना जरूरी होता है.

सुझाव-

  • व्यवसायिक स्तर पर कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए ऐसे स्थान का चयन किया जाता है, जो वांछित मार्केट से आस-पास स्थित हो, साथ ही जहां पर आवागमन की सुविधा भी हो.
  • आपको टॉयलेट क्लीनर बनाने की (Disinfectant Toilet Cleaner Making/Manufacturing Business) शुरूआत करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए जो प्रदूषण, बारिस, धूल-मिट्टी और नमी आदि घटकों से सुरक्षित हो.
  • इसके साथ ही आपके चयनित स्थान पर बिजली व पानी आदि की व्यवस्था का होना आवश्यक है.
  • आप द्वारा चयनित स्थान पर केमिकल आदि की सुरक्षा के विशेष इंतजाम किया जाना अति आवश्यक है.

टॉयलेट क्लीनर बनाने के लिए रॉ मटेरियल (toilet cleaner raw material list)-

यदि आप अपने घर पर टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करना चाहते/चाहती हैं तो आपको नीचे दिये गए इन रॉ मटेरियल/कच्चे माल की जरूरत होगी, हमारे द्वारा यह जो पद्धति (recipe)/टॉयलेट क्लीनर बनाने का फार्मूला (hydrochloric acid toilet cleaner formulation) बताया जा रहा है,

उसे हाथों से निर्मित की जाने वाली टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि अथवा प्रक्रियाहै. नीले रंग का टॉयलेट क्लीनर बनाने के लिए इन रॉ मटेरियल या कच्चे माल की आवश्यकता होती है-

Raw MaterialQuantityUnit Measurement 
DM Water7.00liter 
Acid thickner1.00liter 
hcl 33%2.00liter 
acid color (इच्छानुसार)0.01kg 
lemon perfume (वैकल्पिक)0.01Liter 
Packing Bottle   

मैजिक टॉयलेट क्लीनर बनाने के लिए रॉ मटेरियल-

Raw MaterialQuantityUnit Measurement 
DM Water6.00liter 
Acid thickner0.50liter 
Sulfuric acid5.00liter 
acid color (इच्छानुसार)0.01gm 
Packing Bottle   

कहां से खरीदें (Where to buy)-

उपरोक्त बताये गए सभी रॉ मटेरियल आपको अपने स्थानीय केमिकल मार्केट से मिल जाएंगे. साथ ही यदि आपके लोकल मार्केट में यह रॉ मटेरियल नहीं मिल पा रहे है तो इसे आप ऑनलाइन भी आर्डर दे सकते/सकती हैं. इसके लिए आप इन वेबसाइट्स की मदद ले सकते/सकती है-

  1. www.indiamart.com 
  2. www.amazon.com या फिर
  3. आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं.

आवश्यक उपकरण (Required Necessary Equipment)-

छोटे व बड़े दोनों स्तरों पर टॉयलेट क्लीनर बनाने के लिए इच्छुक उद्यमी को नीचे बताये गए उकरण/पात्रों (one time investment) की आवश्यकता होती है-

  1. प्लास्टिक बाल्टी/टब व मग
  2. मिश्रण मिलाने के लिए प्लास्टिक के चम्मच/छड़
  3. मटेरियल नापने के लिए वेट मशीन व लैब उपकरण आदि

आवश्यक सुरक्षा उपकरण (Safety Equipment)-

टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि/प्रक्रिया को शुरू करने से पूर्व हमें अपनी त्वचा और शारीरिक अंगो आदि की सुरक्षा के लिए कुछ सुरक्षा उपकरण पहनने होते हैं क्योंकि टॉयलेट क्लीनर एसिड (toilet cleaner acid) बनाते समय यदि मिश्रण छलक कर शरीरिक अंगो व त्वचा आदि के संपर्क में आता है तो एलर्जी, जलन, खुजली के लक्षण दिख सकते हैं.

यहां हम खतरनाक केमिकल से प्रयोग (experiment) करने जा रहे हैं, इसलिए सुरक्षा उपकरण अनिवार्य रूप से पहनना जरूरी है. ये सुरक्षा उपकरण हैं-

  1. Eye Protection Spectacles (पारदर्शी चश्मे)
  2. Thick Hand Gloves (रबर के मोटे दस्ताने)
  3. Face Mask (चेहरे को सुरक्षा के लिए मास्क) और
  4. Rubber Boots (रबर के जूते)

टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए जरूरी मशीनरी (Required Machinery in Toilet Cleaner Making Business)-

यदि आप टॉयलेट क्लीनर के व्यवसाय को बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते/चाहती हैं तो व्यवसायिक स्तर पर टॉयलेट क्लीनर की Manufacturing यूनिट स्थापित करने के लिए इन मशीनों की आवश्यकता होती है-

  1. Mixing Machine with agitator– (कीमत- 19,000 रुपए से शुरू) इस मशीन में टॉयलेट क्लीनर का निर्माण करने वाले रॉ मटेरियल को एक-एक कर आपस में मिक्स या मिलाया जाता है.
  2. Filling Machine- (कीमत- 25,000 रुपए से शुरू) इस मशीन की सहायता से एक निश्चित मात्रा में बोतल व पैकिंग आदि में fill या भरा जाता है.
  3. बोतल कैप और पाउच  सीलिंग मशीन (Sealing Machine)– (कीमत- 12,500 रुपए से शुरू) यह मशीन टॉयलेट क्लीनर को प्लास्टिक बोतल के ढक्कन आदि को सील करने का काम करती है.

नोट-

  • इन मशीनों से लिक्विड डिटर्जेंट, हैंड वाश, लिक्विड साबुन (soap), बॉडी लोशन, फिनायल मेकिंग, परफ्यूम मेकिंग, शैम्पू मेकिंग, नेल पॉलिश मेकिंग व आल्ता आदि का निर्माण कार्य भी बहुत आसानी से किया जा सकता है.
  • इन मशीनों का चुनाव आप अपने व्यवसायिक उत्पादन और कार्य क्षमता के आधार पर करें. यह तीनों मशीन ऑटोमेटिक और सेमी-ऑटोमेटिक दोनों वेरियंट में आती है.
  • उपरोक्त बताई गई मशीनों की कीमत बाजार उतार-चढाव के कारण समय-समय पर घटती/बढ़ती रहती है.

टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि (toilet cleaner manufacturing process)-

व्यवसायिक तौर पर टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि/प्रक्रिया को … चरणों में पूरा किया जाता है-

  1. टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि शुरू करने से पहले अपनी सुरक्षा हेतु सुरक्षा उपकरण धारण करना होता है.
  2. इसके बाद वांछित मात्रा के साफ पात्र को लेना है और इसमें DM water और एसिड थिकनर को बताई गई मात्रा के अनुसार भर कर दोनों को आपस में छड़/चम्मच की सहायता से मिलाना होता है.
  3. इसके बाद इस मिश्रण में एसिड आधारित रंग (नीला) वांछित मात्रा के मुताबिक मिलाना होता है.
  4. सबसे अंतिम चरण में प्राप्त मिश्रण में HCL जो कि 33% ग्रेड का है, उसे धीरे-धीरे डालते हुए मिलाना होता है. यह पूरी प्रक्रिया लगभग 10 से 15 मिनट की होती है.
  5. इसके बाद तैयार हो चुके मिश्रण को 6 से 8 घंटो के लिए छोड़ दिया जाता है, जिससे मिश्रण में अतिरिक्त air bubble निकल जाते है. यदि आप व्यवसायिक स्तर पर टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय स्थापित कर अपने निर्मित उत्पाद से अच्छा मुनाफा कमाना चाहते हैं तो इस चरण को अवश्य पूरा करें.
  6. इसके बाद जो मिश्रण प्राप्त होता है, उसकी एक शानदार पैकिंग कर मार्केट में बिक्री के लिए भेज दिया जाता है.

मैजिक टॉयलेट क्लीनर बनाने की विधि (Process of Magic Toilet Cleaner liquid)-

मैजिक टॉयलेट क्लीनर वास्तव में बाजारवाद का एक बेहतर उदहारण है. यदि आप अपने उत्पाद को एक नई प्रेरणा के साथ मार्केट में उतारना चाहते/चाहती हैं तो मैजिक टॉयलेट क्लीनर एक मुनाफे का विकल्प साबित हो सकता है.

मैजिक-टॉयलेट-क्लीनर-बनाने-का-व्यवसाय-Magic-Toilet-Cleaner-Making-Business-at-Low-Cost

मैजिक टॉयलेट क्लीनर (magic toilet cleaner) बनाने के लिए ऊपर बताई गई नीले रंग के टॉयलेट क्लीनर की विधि में HCL के स्थान पर Sulfuric acid का प्रयोग किया जाता है. साथ ही मैजिक टॉयलेट क्लीनर बनाने में किसी भी रंग का प्रयोग नहीं किया जाता है.

मैजिक टॉयलेट क्लीनर क्या होता है?

मैजिक टॉयलेट क्लीनर, नीले रंग के टॉयलेट क्लीनर की भांति ही एक टॉयलेट क्लीनर है, जो पानी के संपर्क में आते ही अपना रंग बदल देता है.

मैजिक टॉयलेट क्लीनर किस रंग का होता है?

मैजिक टॉयलेट क्लीनर (magic toilet cleaner) मूलरूप से हरे रंग का होता है.

मैजिक टॉयलेट क्लीनर (magic toilet cleaner) किस रंग में बदल जाता है?

मैजिक टॉयलेट क्लीनर पानी से अभिक्रिया करके हरे रंग से नीले रंग में बदल जाता है. इस रंग बदलने की खूबी को मैजिक (जादू) कहा जाता है.

टॉयलेट क्लीनर की पैकिंग तैयार करना (Preparation of packaging of Toilet Cleaner)-

एक शानदार और सुन्दर पैकिंग किसी भी ग्राहक को अपनी ओर आकर्षित कर सकती है और उस पर यदि उत्पाद उच्च गुणवत्ता का हो सोने पर सुहागा हो जाता है. किसी भी Product की पैकिंग उसके ब्रांड वैल्यू को बनाने और बढ़ाने का काम करती है. टॉयलेट क्लीनर की पैकिंग दो तरीके से होती है-

  1. पाउच में (जिसे आप लोकल मार्केट प्रिंटर्स/मुद्रक से या ऑनलाइन भी खरीद सकते/सकती हैं.)
  2. बोतल में (जिसे आप लोकल मार्केट या ऑनलाइन भी खरीद सकते/सकती हैं या फिर आर्डर देकर बनवा सकते हैं)

पैकिंग की डिजाइन के लिए किसी जानकार ग्राफिक्स डिजाइनर की सहायता जरूर लें. साथ ही उत्पाद बनाने में उपयोग किए गए घटकों का उल्लेख उत्पाद की पैकेजिंग पर अनिवार्य रूप से करें.

टॉयलेट क्लीनर की बोतल स्टीकर व पाउच पैकिंग बनवाने के लिए आप सबसे पहले अपने क्षेत्रीय प्रिंटर्स/मुद्रक से संपर्क करें, यदि आपके क्षेत्र में प्रिंटिंग व डिज़ाइनिंग आदि का काम नहीं होता है तो पैकिंग बनवाने के लिए आप इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइटो की मदद ले सकते/सकती है.

इसे भी देखें- गोबर से उत्पाद बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें.

सुझाव-

टॉयलेट क्लीनर व्यापार की शुरुवात आप छोटे/कम मात्रा जैसे- 250 ml से 500 ml से ही शुरू करें. ऐसा करने से आपकी मार्केट समझ बढ़ेगी साथ ही आपको यह भी पता चलेगा कि आपके Product की बाजार में खपत किस स्तर पर हो रही है, खपत का आंकलन कर आप बाजार में बड़े size (1 से 5 लीटर आदि) के प्रोडक्ट या उत्पाद उतार सकते/सकती हैं.

टॉयलेट क्लीनर निर्माण व्यवसाय का पंजीकरण (Business Registration)-

कोई भी व्यवसाय या कारोबार शुरू करने से पहले एक उद्यमी को अपने व्यवसाय या कारोबार की कम्पनी या फर्म का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन लेना है. पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन के बाद ही आप अपने उत्पाद का प्रचार मार्केट/बाजार में कर सकते/सकती हैं.

टॉयलेट क्लीनर निर्माण कारोबार का पंजीकरण कराने के लिए आपको सबसे पहले अपनी कम्पनी या फर्म के नाम से एक बैंक खाता खोलना होता है, इसके बाद भारत सरकार द्वारा विकसित किये गए उद्यमी पोर्टल MSME पर अपने व्यापार की लागत के अनुरूप सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग अंतर्गत किसी एक श्रेणी में पंजीकरण करा सकते/सकती हैं.

साथ ही आपको टैक्स आदि के लिए GST No. भी लेना अनिवार्य है, उत्पाद की गुणवत्ता के लिए ISO Certification भी करा सकते हैं. इन पंजीकरणों के बाद भी ….. आपको

  1. फैक्ट्री लाइसेंस,
  2. ट्रेड व ट्रेडमार्क लाइसेंस के साथ
  3. जिले या राज्य के प्रदूषण विभाग से NOC (No Objection Certificate) लेना होता है.

टॉयलेट क्लीनर उत्पाद की मार्केटिंग (Product Marketing)-

Product तैयार हो जाने के बाद सबसे अहम काम होता है अपने उत्पाद के प्रति लोगों को जागरूक करना मतलब अपने उत्पाद की मार्केटिंग (Product Marketing) करना. इसके लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने लोकल किराना दुकानों और स्टोर्स के कारोबारियों से संपर्क करें, साथ ही लोकल बाजार के कई स्थानों पर पोस्टर आदि चिपकवा सकते हैं,

चूँकि आपके आस-पास की किराना दुकानें आपको अच्छे से जानते होंगे, जिससे आपके माल के खपत होने कि संभावना बढ़ सकती है. इसके साथ ही होलसेल बाजार के व्यापारियों से भी होलसेल बिक्री हेतु संपर्क कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें- सफल कारोबारियों की ख़ास बातें

यदि आप छोटे स्तर पर व्यापार शुरू कर रहे/रही हैं तो प्रचार के लिए आप अखबार में पैम्पलेट भी डलवाकर प्रचार कर सकते/सकती हैं. इसके साथ ही जैसे-जैसे आपका कारोबार बढ़ता जाए आप और बड़े स्तर के विज्ञापन (अखबार पृष्ठ, पत्रिका पृष्ठ और digital marketing) का भी सहारा ले सकते हैं.

आप अपने टॉयलेट क्लीनर बिजनेस को ऑनलाइन भी कर सकते/सकती हैं, जहां आपको एक वेबसाइट डिजाइन करनी या करवानी होगी, एक वेबसाइट बनाने या बनवाने का सालाना खर्च लगभग 10,000 से 25,000 तक आ सकता है.

सुझाव- बिक्री बढ़ाने के लिए आप toilet cleaner के साथ toilet cleaner brush जैसी स्कीम भी दे सकते हैं.

उत्पाद का मूल्य निर्धारण (Price Determination)-

एक नए उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए सबसे अहम भूमिका निभाता है उसका मूल्य और यह बात सार्वभौम सत्य है कि आज जिस तरह से मंहगाई बढ रही है, उसे ध्यान में रखते हुए आपको अपने उत्पाद का मूल्य इतना रखना चाहिए, जिसे समाज का हर वर्ग आसानी से खरीद सके.

इसलिए बाजार और मंहगाई को देखते हुए आप अपने उत्पाद का मूल्य बाजार में मौजूद अन्य उत्पादों की अपेक्षा कुछ कम ही रखें लेकिन उत्पाद की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें,

बेहतरीन गुणवत्ता के कारण लोगों/ग्राहकों/उपभोक्ताओं का भरोसा आपके उत्पाद के प्रति बढ़ता जाएगा, जो आपके कारोबार की नई संभावनाएं और सीमाएं तय का सकता है साथ ही भविष्य में लाभकारी परिणामों वाला भी साबित हो सकता है.

सुझाव- कम मूल्य पर उत्पाद बेचने की शुरुवात आपको अपने लोकल मार्केट से ही करनी चाहिए.

टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए लोन (Loan)-

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP), मुद्रा लोन योजना, कौशल विकास योजना आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है.

इसके लिए आपको अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन करना होगा. सरकारी योजनाओंके तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय या स्थानीय सरकारी बैंक की शाखा से आवशयक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

व्यापार के बिल व ब्यौरा तैयार करना-

अधिकतर नए व्यापारी नया व्यापार शुरू तो कर देते हैं लेकिन लागत के रूप में खर्चे गए पैसों का हिसाब सही ढंग से नहीं रखते, जो कि एक उभरते हुए व्यापारी के लिए अच्छी बात नहीं है. आज के इस डिजिटल ज़माने में अपने खर्चों को सूचीबद्ध करना बहुत ही आसान है. इसके लिए आज ढेरों software और application मौजूद हैं. 

यदि आप एक smart phone अपने पास रखते हैं तो Google play store पर billing और accounting से जुडी ढेरो application मौजूद हैं. आप उनमें से किसी एक उपयोग कर सकते हैं.

इन application में आप अपने तैयार समान के बिल बनाने से लेकर अपनी लागत का ब्यौरा भी सुरक्षित रख सकते है, और इससे आपको पता रहेगा कि आपने अपने बिजनेस में अब तक कुल कितनी लागत लगाई है और कितना मुनाफा कमाया.

टॉयलेट क्लीनर व्यवसाय में मुनाफा (Profits in Toilet Cleaner Making Business)-

अपने उत्पाद से मुनाफा हर एक उद्यमी, व्यवसायी, व्यापारी और कारोबारी को सबसे उच्च स्तर का प्राप्त करने की अभिलाषा होती है, मौलिक तौर पर मुनाफा शब्द एक ऐसा शब्द है जो हर किसी को एक नई प्रेरणा (Inspiration) देता है. 

कोरोना काल ने साबुन और स्वच्छता से जुड़े व्यवसायियों के लिए कई लाभ सम्भावनाओं को पैदा किया है. अमूमन अच्छी गुणवत्ता के टॉयलेट क्लीनर पर पैकिंग व मार्केटिंग सहित लागत प्रति लीटर लगभग 40 से 46 रुपए तक आती है जिसे खुदरा मार्केट में 80 से 103 रुपए प्रति लीटर तक बेचा जाता है.

जहां आपका मुनाफे का आंकलन आप स्वयं ही कर सकते हैं. जैसे-जैसे आपके उत्पाद की खपत बढती है आपका मुनाफा भी गुणन के आधार पर बढ़ता जाता है,

आप टॉयलेट क्लीनर बिजनेस/कारोबार से शुरूआती स्तर पर 10,000 से लेकर 50,000 रुपए या इससे भी ऊपर हर महीने कमा सकते हैं. व्यवसाय का यह सम्भावित मुनाफा उत्पाद की प्रभावी मार्केटिंग के मुताबिक घट अथवा बढ़ सकता है.

FAQ.

शौचालय की सफाई करने के लिए कौन से पदार्थ का उपयोग करना चाहिए?

सभी प्रकार के शौचालयों की सफाई के लिए कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर (Disinfectant Toilet Cleaner) को ही उपयोग में लेना हितकर होता है. जिससे संक्रामक बीमारियों के खतरे को सहजता से कम किया जा सकता है.

ब्लीच और टॉयलेट क्लीनर में क्या अंतर है?

टॉयलेट बाउल/पॉट की साधारण सफाई के लिये ब्लीच सहायक होती है. लेकिन टॉयलेट बाउल/पॉट पर लगे जिद्दी दाग-धब्बों की एक बार में ही साफ, स्वच्छ और कीटाणु मुक्त करने के लिए टॉयलेट क्लीनर का उपयोग किया जाता है.

शौचालयों को कितनी बार साफ करना चाहिए?

अमूमन दैनिक दर पर उपयोग में लिए जा रहे प्रत्येक शौचायल की सफाई करने व स्वच्छता बनाए रखने की दृष्टी से सप्ताह में 01 अथवा 02 बार कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर (Disinfectant Toilet Cleaner) से साफ करना प्राथमिक कदम है.

कीटाणुनाशक टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए कितनी लागत आती है?

छोटे स्तर अथवा घर से टॉयलेट क्लीनर मेकिंग बिजनेस (Disinfectant Toilet Cleaner making business) शुरू करने के लिए कम से कम 20,000 से 50,000 रूपये का निवेश करना पड़ता है. जिसमें चयनित स्थान की लागत शामिल नहीं है.

वही यदि बड़े स्तर पर Toilet Cleaner manufacturing business का startup करना चाहते हैं तो इच्छुक उद्यमी को 05 से 08 लाख रुपए का निवेश करना होगा. जिसमें चयनित स्थान (किराये अथवा स्वयं का स्थान) की लागत शामिल नहीं है

अंत में-

आज हर मनुष्य अपने आपको हर हाल में स्वच्छ रखने का प्रयास करता है, क्योंकि खुद की स्वच्छता काफी हद तक सामाजिक प्रतिष्ठा के द्योतक के रूप में जानी जाती है. और जब से महामारियों का दौर शुरू हुआ है तभी से लोगों ने स्वच्छता सम्बन्धी उत्पादों को संजीदगी से लेना शुरू किया है. 

जिस कारण स्वच्छता संबंधी उत्पाद जैसे टॉयलेट क्लीनर व अन्य स्वच्छता संबंधी उत्पादों की उपयोगिता और भी बढ़ चुकी है. फलस्वरूप टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय या कारोबार/उद्यम में नई संभावनाएं पैदा होती जा रही है. जिसके चलते टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय लगाना एक फायदेमंद विकल्प साबित हो सकता है.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य कर लें, ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार की डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘कम लागत में शुरू करें टॉयलेट क्लीनर बनाने का व्यवसाय’ से क्लीनिंग उद्योग आधारित उद्यम, व्यवसाय, बिजनेस और कारोबार के बारे में विस्तृत जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए.” 

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular