रीसायकल बिजनेसपुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय | Textile Waste Recycling Business in hindi

पुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय | Textile Waste Recycling Business in hindi

फटे-पुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय, textile waste recycling business, Recycling व्यवसाय की संभावनाएं, waste cloth recycling business,  cloth recycling ideas, कपड़ा उद्योग, cloth recycling plant और पुनर्नवीनीकरण/रीसायकल व्यवसाय में मुनाफा (profit)

आज हमारा समाज ऐसे उत्पादों से भरा पड़ा है जो हमारे समाज और पर्यावरण पर प्रतिकूल प्रभाव डालने की क्षमता रखते है। बदलते फैशन के इस दौर में आज जिस गति से हम अपने कपड़ो को बदलते जा रहे हैं, उससे कई समस्याओं…

जैसे पुराने कपड़ों का अपशिष्ट (textile waste) के रूप में दिखाई देना शुरू हो चुका है और यह समस्या आगे चलकर भविष्य में काफी बड़ी समस्या भी साबित हो सकती है। जिसका प्राथमिकता पर समय से निपटान किया जाना अनिवार्य हो चुका है।

आज हम जो भी कपड़े से बने उत्पाद (fabric Product) उपयोग में लेते हैं, समय बीतने के साथ वह खराब अथवा उपयोग व पहनने लायक नहीं रह जाता, जिस कारण कुछ समय बाद प्रयोग में लिए गए इन कपड़ों का ढेर, अपशिष्ट के रूप में हमारे पास इक्कठा हो जाता है,

कपड़ों-का-रीसायकल-व्यवसाय-textile-waste-Recycling-Business

सामान्य तौर पर हम इस अपशिष्ट (wastage) को या तो जला देते हैं या फिर इसे कूड़ेदान में डालकर इससे निजात पाने की कोशिश करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पुराने कपड़ों का पुनर्नवीनीकरण (Recycle) व्यवसाय कर फिर से उपयोग में लिया जा सकता है, अगर नहीं तो यह लेख आपको ही समर्पित है-

रीसायकल व्यवसाय की संभावनाएं एवं अवसर-

आज जिस तरह से प्रत्येक क्षेत्र में मानव निर्मित कचरे की बढ़ोत्तरी हो रही है, इसको देखते हुए इसका निपटान किया जाना प्राथमिक और अनिवार्य हो चुका है, जहां तक कचरे की बात करें तो किसी भी कचरे का निपटान करने के लिए 02 विकल्पों की संभावना हो सकती है-

  1. कचरे को पूर्ण रूप से नष्ट (जलाकर या जमीन में दबाकर) कर दिया जाए, जिससे पर्यावरण दूषित होगा।
  2. कचरे का पुनर्नवीनीकरण (Recycle) कर पुनः उपयोग हेतु बनाया जाए, जो पर्यावरण को दूषित न करे।

हमारी सहज समझ दूसरे विकल्प का ही चुनाव करेगी। तो इसका मतलब यह है कि Recycling का व्यवसाय शुरू करना एक लाभ का कारोबार (Waste to Wealth) सिद्ध हो सकता है। साथ ही बदलते समय के साथ पुनर्नवीनीकरण व्यवसाय को शुरू करने की आवश्यकता भी है क्योंकि अगर समय से कचरे को रीसायकल नहीं किया गया तो जिस पृथ्वी पर हम रहते हैं वहां त्रासिदी आना निश्चित है और जिसके जिम्मेदार हम खुद होंगे।

वहीं दूसरी ओर अगर हम इस कचरे का पुनर्नवीनीकरण (Waste Recycling) समय से करते हैं तो यह Recycling व्यवसाय हमें एक अच्छा मुनाफा भी दे सकता है, आज बहुत ही कम लोग है जो जानते कि कचरा भी कमाई का जरिया हो सकता है। अगर आपको इस रीसायकल व्यवसाय को शुरू करना या इसके बारे विस्तृत जानकारी पाना चाहते हैं, तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें।

Textile-Waste-Recycling-Business-कपड़ों-का-रीसायकल-व्यवसाय

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको “पुराने कपड़ो का रीसायकल व्यवसाय कैसे शुरू करें?” की पूरी जानकारी साझा करने जा रहे हैं- जहां आपको इस व्यवसाय (waste recycling plant) को शुरू करने के लिए कौन-कौन से घटको व मशीनरी की जरूरत होती है…

जैसे-रॉ मटेरियल, पंजीकरण, लागत, मुनाफा और स्थान आदि की पूरी जानकारी दी जाएगी। तो चलिये शुरू करते हैं, भविष्य के उभरते हुए व्यवसाय की चर्चा-

कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय शुरू करने के लिए रॉ मटेरियल (Raw Material)-

Fabric/Textile waste recycling business या पुराने कपड़ों का पुनर्नवीनीकरण/रीसायकल व्यवसाय शुरू करने के लिए हमें बस एक ही कच्चे माल या रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है। यह कच्चा माल पुराने व कटे-फटे कपड़े, कपडे से बने थैले एवं फैब्रिक कैरी बैग के साथ बड़ी टेक्सटाइल मिलों से बड़े स्तर पर कटिंग के रूप में निकलने वाले कपड़े आदि हो सकते है।

साथ ही यदि आप चाहे तो कच्चे माल की पूर्ति के लिए मैनपावर लगाकर घरों व दर्जी की दुकानों से एकत्र/कलेक्ट करवाया भी जा सकता है। कच्चे माल के रूप में लिया जाने वाला पुराना कपड़ा Bulk में लगभग 20 से 30 रुपए प्रति किलो व कतरनों के रूप में लिया जाने वाला textile waste कपड़ा (अच्छी गुणवत्ता का फैब्रिक/कपड़ा) लगभग 30 से 50 रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदा जाता है।

पुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय शुरू करने के लिए मशीनरी (Required machines)-

पुराने फैब्रिक या कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय (textile waste recycling business) शुरू करने के लिए हमें 04 मशीनों की जरूरत होती है, ये मशीनें है-

  1. Fabric/Cloth Shredder Machine- (कीमत- 15 लाख से शुरू)
  2. Fiber Opener Machine- (कीमत- 02 लाख से शुरू)
  3. Fiber Cleaning Machine- (कीमत- 80 हजार से शुरू)
  4. Baling Press Machine- (कीमत- 1.5 लाख से शुरू)

नोट- 

  • उपरोक्त बताई गई मशीनें ऑटोमेटिक व सेमी-ऑटोमेटिक वेरियंट एवं अलग-अलग क्षमता की आती हैं, साथ ही इन मशीनों का चुनाव आप व्यवसाय की उत्पादन कार्यक्षमता के आधार पर ही करें।
  • उपरोक्त बताई गई मशीनों की कीमत बाजार उतार-चढ़ाव के कारण घट-बढ़ सकती है।

इसे भी पढ़ें- कैसे शुरू करें एक सफल कारोबार

मशीनरी कहां से खरीदें (where to buy)-

उपरोक्त मशीनरी को आप अपने लोकल मार्केट से ले सकते हैं यदि लोकल बाजार में यह मशीने नहीं मिल पा रही हैं तो इस आप ऑनलाइन भी नीचे दी गई वेबसाइटस से खरीद सकते हैं-

  1. indiamart.com
  2. tradeindia.com
  3. alibaba.com या फिर
  4. आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं।

कपड़ो पर लगे बटन आदि की छटाई करना (Segregation)-

अमूमन उपयोग किए गए पुराने कपड़ों में प्लास्टिक अथवा मेटल के बटन आदि लगे होते हैं जिनका निकाला जाना बेहद जरूरी होता है, क्योंकि मशीनें कपड़ों को प्रोसेस करने के लिए बनी होती हैं, यदि बटनों की छटाई व्यापक तौर पर न की जाए तो मशीनों की कार्य क्षमता पर प्रभाव पड़ता है साथ ही मशीनों के पुर्जे भी खराब हो सकते हैं। जिससे आपका मशीन मेंटेनस खर्च भी बढ़ सकता है।

इसे भी पढ़ें- टायर वेस्ट रीसायकल व्यवसाय

रीसायकल उत्पाद तैयार करने की विधि (Textile Waste Recycling Process)-

कपड़ों की रीसाइक्लिंग का काम —- में पूरा किया जाता है-

  • प्रथम चरण- Fabric/Cloth Shredder मशीन की सहायता से कच्चे माल या रॉ मटेरियल (पुराने कपड़ों व करतनों) को क्रश कर एक समान बनाया जाता है। इस काम को करने में 01 मैनपावर की जरूरत पड़ती है।
  • दूसरा चरण- Fabric/Cloth Shredder मशीन से प्रोसेस हुए मटेरियल को दूसरे चरण में Fiber Opener Machine की मदद ली जाती है। कपड़ों से धागों को अलग करने के लिए कपड़ों को गर्म पानी से गीला (सामान्य भाषा में गुनगुना) किया जाता है, जिससे कपड़े फूल जाते हैं, फिर फाइबर ओपनर मशीन में प्रोसेसिंग के लिए डाला जाता है, जहां Fiber Opener मशीन कपड़ों से एक-एक धागे (थ्रेड) को अलग कर देती है। इस मशीन को आपरेट करने में कम से कम 02 मैनपावर की जरूरत पड़ती है।

इसे भी पढ़ें- EV चार्जिंग स्टेशन बिज़नेस की शुरुआत कैसे करें

  • तीसरा चरण- कपड़ों से धागे अलग हो जाने के बाद प्रोसेस हुए मटेरियल की सफाई की जाती है, यह सफाई का काम Fiber Cleaning Machine की सहायता से किया जाता है, बाकी मशीनों की अपेक्षा इस मशीन की प्रोसेस में थोड़ा ज्यादा समय लगता है। इस मशीन को आपरेट करने में कम से कम 02 मैनपावर की जरूरत पड़ती है।
  • चौथा चरण- मटेरियल की सफाई हो जाने के बाद सबसे आखिर में Baling Press Machine की मदद से मटेरियल को दबाकर (Compress कर) बड़े-बड़े loaf या गट्ठर के रूप में तैयार कर लिया जाता है। यह तैयार loaf या गट्ठर ही आपका उत्पाद है जो बेचने के लिए पूरी तरह से Ready होता है। Baling Press Machine को आपरेट करने में कम से कम 01 मैनपावर की जरूरत पड़ती है।

कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय शुरू करने के लिए आवश्यक स्थान (Required Area)-

Textile waste recycling business के तहत फैक्ट्री शुरू करने के लिए कम से कम 4,000 वर्ग फुट स्थान या जगह की जरूरत होती है, जहां प्लांट कम से कम 3,700 वर्ग फुट क्षेत्र (Area) पूरी तरह से धूल, बारिस, मिट्टी व प्रदूषण से ढका (Covered) या संरक्षित होना चाहिए।

साथ ही प्लांट में मशीनों के स्थान ऐसे निर्धारित किए गए हों जिससे कर्मचारियों को काम करने एवं कच्चा व तैयार माल सुरक्षित रखने में असुविधा न हो। इस स्थान पर बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना अनिवार्य है।

सुझाव-

आपको Fabric/Cloth/Textile waste recycle business शुरू करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए, जहां से रॉ मटेरियल या कच्चा माल आसानी से मिल सकता हो। साथ ही आपके प्लांट स्थान पर transportation संबंधी आवागमन (क्रय-विक्रय आदि) की उचित व्यवस्था होनी आवश्यक है। यह स्थान अगर किसी व्यवसायिक क्षेत्रों के अंतर्गत आता है तो सबसे उत्तम है।

इसे भी पढ़ें- एलईडी लाइटस व्यवसाय कैसे शुरू करें

स्थान पर बिजली आपूर्ति हेतु आवश्यक उपकरण-

textile waste recycling व्यवसाय में मशीनों आदि के सुगम संचालन के लिए कम से कम 60 से 80 किलोवॉट क्षमता के बिजली कनेक्शन की अवश्यकता होती है। यह क्षमता मशीनों के चयन आधार पर भी सुनिश्चित की जा सकती है, साथ ही प्लांट में बिजली को नियंत्रित व पर्याप्त आपूर्ति के लिए नीचे बताए गए उपकरणों का होना जरूरी है-

  1. Electrical Power Panel- (कीमत- 50 हजार से शुरू)
  2. DG Set Control Panel- (कीमत- 50 हजार से शुरू)
  3. Electric Generator- (कीमत- 90 हजार से शुरू)

कहां से खरीदें-

उपरोक्त पैनल्स को आप अपने लोकल मार्केट से बनवा या खरीद सकते/सकती हैं यदि आपके लोकल बाजार में यह पैनल नहीं मिल पा रहे हैं तो इसे आप ऑनलाइन भी नीचे दी गई वेबसाइटस से खरीद सकते हैं-

  1.  www.indiamart.com
  2. www.alibaba.com या फिर आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर देकर बनवा सकते/सकती हैं।

नोट- उपरोक्त बताए गए उपकरणों की कीमत बाजार उतार-चढ़ाव के कारण घट-बढ़ सकती है।

व्यवसाय में मैनपावर या कर्मचारियों की जरूरत (Required Manpower )-

अमूमन बड़े स्तर पर प्रत्येक रीसाइक्लिंग व्यवसाय में मैनपावर या कर्मचारियों की जरूरत पड़ती ही है, पुराने कपड़ों का रिसाइकिल व्यवसाय को शुरू करने में कम से कम 08 से 10 मैनपावर या कर्मचारियों की अवश्यकता होती है। ये कर्मचारी मैनेजर, मार्केटर, लेबर व सफाई कर्मी आदि हो सकते हैं।

कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय का पंजीकरण (textile waste recycling registration)-

कोई भी व्यवसाय अथवा कारोबार शुरू करने से पहले एक उद्यमी को अपने व्यवसाय की कम्पनी/फर्म का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक पंजीकरण/रजिस्ट्रेशन लेना होता है. कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय को शुरू करने के लिए उद्यमी को अपनी फर्म पंजीकरण के बाद फर्म के नाम से एक बैक खाता खोलना अनिवार्य है। इसके बाद…

फैब्रिक वेस्ट मटेरियल को रीसाइकल करने वाले व्यवसाय/कारोबार को शुरू करने के लिए भारत सरकार द्वारा निर्धारित किए गए मानक प्रमाण पत्रों से पंजीकृत कराना होता है। यह पंजीकरण हैं-

  1. Firm Registration
  2. MSME Registration
  3. Factory License
  4. GST No.
  5. NOC Certificate from Pollution Department & Fire Control Board

रीसायकल उत्पाद कहां-कहां बेंच सकते हैं (Where to sell)-

रिसाइक्लिंग प्रोसेस से तैयार उत्पाद की जरूरत कई textile के क्षेत्र से जुड़ी manufacturing यूनिटों में होती है, चूंकि टेक्स्टाइल वेस्ट मटेरियल से बना रीसाइक्लिंग उत्पाद B2B (Business to Business) लघु कपड़ा उद्योग अंतर्गत आता है, इसलिए रीसाइकल उत्पाद के उपभोक्ता भी अधिकतर textile industry से जुड़े हुए ही होते हैं। ये उपभोक्ता हो सकते हैं-

  1. Yarn Industry (धागा निर्माण उद्योग)
  2. Non Woven Industry (गैर बुना उद्योग)
  3. Furniture, Sofa and Punching Bag Manufacturing (फर्नीचर, सोफा और पंचिंग बैग निर्माण व्यवसाय में)
  4. Sports Industry

इसे भी पढ़ें- एसिड स्लरी व्यवसाय

ये कुछ ऐसे उद्योग व क्षेत्र हैं जहां पर पुनर्नवीनीकरण कपड़े का व्यवसाय (fabric recycle business) अच्छे व बेहतर तरीके से फल-फूल रहा है। क्योंकि ये ऐसे क्षेत्र हैं जो आज समाज की प्राथमिक जरूरतों को पूरा करने के लिए उत्तरदायी हैं। मसलन….

  • धागा उद्योग एक प्राथमिक जरूरत है, साथ ही
  • सोफा, पंचिंग बैग और बॉक्सिंग ग्लवस आदि की filling में,
  • गैर बुना उद्योग जैसे- गद्दे, तकिया, कुशन और खेलों में बड़े आकार के गद्दे, दरी व पावदान आदि बनाने में रीसायकल फैब्रिक का उपयोग किया जाता है।

कपड़ा रीसायकल व्यवसाय पर लागत (Total Cost)-

यदि आप फैब्रिक या पुराने कपड़ों के रिसाइक्लिंग व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो इस व्यवसाय के पूरे automatic setup में कम से कम लगभग 24 से 30 लाख रुपए (GST अलग से) की पूंजी का निवेश करना होगा। यह निवेश मशीनों, स्थान, कच्चे माल की क्रय दर के अलावा मैनपावर के चयन पर घट अथवा बढ़ भी सकता है।

रीसायकल व्यवसाय के लिए लोन (Loan for business)-

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना (PMEGP), कौशल विकास योजना आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है.

इसके लिए आपको अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन करना होगा. सरकारी योजनाओं के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय सरकारी बैंक की शाखा से आवशयक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

कपड़ा रीसायकल व्यवसाय में मुनाफा (Profit in textile waste recycle business)-

अब बात करते हैं रीसायकल व्यवसाय से होने वाले मुनाफे की। सामान्य तौर पर फैब्रिक या पुराने कपड़ों के रीसायकल बिजनेस में रॉ मटेरियल या कच्चे माल को 30 से 50 रुपए प्रति किलो की दर से खरीदा जाता है।

जिसे मशीनों द्वारा Recycle Process से गुजार कर तैयार उत्पाद को 75 से 110 रुपए प्रति किलो की दर अन्य निर्माण कर्ताओं को आसानी बेचा/विक्रय किया जाता है। जहां मुनाफा 40 से 55 रुपए प्रति किलो तक लिया या कमाया जा सकता है।

मोटे तौर पर तैयार रुपए 10 लाख के उत्पाद/माल की बिक्री पर (सभी कटौतियों- कर्मचारी वेतन, बिजली बिल व रॉ मटेरियल आदि को निपटाकर) लगभग 01 से 1.25 लाख रुपए का मुनाफा प्रति माह लिया जा सकता है। यह मुनाफा आपके व्यवसाय स्तर आधार पर बढ़ अथवा घट सकता है।

इसे भी पढ़ें- उत्पाद कि मार्केटिंग कैसे करें

सुझाव-

अपने मुनाफे को बढाने के लिए आप MOP Products तथा दरी व पावदान जैसे जरूरी उत्पादों का निर्माण भी बड़े स्तर पर कर अथवा करवा सकते हैं, जिसे खुदरा बाजार में आसानी से विक्रय भी किया जा सकता है.

कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय शुरू करने में सबसे बड़ी चुनौती क्या आती है?

अमूमन देखा गया है कि फटे-पुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय शुरू करने के इच्छुक उद्यमी को कच्चा माल एकत्र करने में कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. पर वास्तविकता में यह एक क्षणिक समस्या है, जो समय के साथ स्वत: ही दूर हो जाती है.

पुराने कपड़ों को रीसायकल कर क्या-क्या बनाया जा सकता है?

यदि आपमें रचनात्मक क्षमता (creativity ability) है तो आप घरेलू पुराने कपड़ों को कई तरह से उपयोग में ले सकते है. अमूमन पुराने कपड़ों से पावदान, दरी, साफ-सफाई (पोछे) के टुकड़े, डोरी, wall hanging, सीमेंट की मदद से गमले, थैले व तकिये आदि की भराई (filling) में लिया जा सकता है.

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो रीसायकल व्यवसाय को करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘पुराने कपड़ों का रीसायकल व्यवसाय कैसे शुरू करें’ से पुराने कपडे व fabric/textile waste recycling business/व्यवसाय, उद्यम व कारोबार के बारे में पूरी जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular