उत्पाद निर्माणबड़े मुनाफे का स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय | Profitable Switch Socket...

बड़े मुनाफे का स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय | Profitable Switch Socket Plugs Manufacturing Business

बिजली के स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय (Switch Socket Plugs Manufacturing Business) शुरू करने के रॉ मटेरियल, मशीनरी, व्यवसाय का पंजीकरण, उत्पाद बनाने की प्रक्रिया, उत्पाद की मार्केटिंग तथा स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय की लागत व व्यवसाय में मुनाफा

वर्तमान दौर में स्विच, सॉकेट और प्लग्स जैसे बिजली के सामान की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। वैसे तो बढ़ती मांग के पीछे कई कारण हो सकते हैं लेकिन इसका सबसे मुख्य कारण दुनिया की बढ़ती जनसंख्या को माना जा रहा है जो लगभग सटीक भी लगता है.

आज जिस घर में हम रहते हैं, वहां बिजली की प्राथमिक आवश्यकता होती है. मसलन हमारे दैनिक उपयोग के अधिकतर उत्पाद बिजली द्वारा ही संचालित होते हैं.

आधुनिक जीवनशैली में बिजली का महत्व इतना बढ़ गया है कि बिना बिजली के दौड़ती-भागती हुई जिंदगी मानो थम सी गई हो… आज लगभग सभी घरों में बिजली को सुनियोजित ढंग से उपयोग में लेने के लिए स्विच, सॉकेट और प्लग्स का प्रयोग किया जाता है.

स्विच-सॉकेट-प्लग्स-निर्माण-व्यवसाय-Switch-Socket-Plugs-Manufacturing-Business
स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय | Switch Socket Plugs Manufacturing Business

सुरक्षित तरीके से बिजली को उपयोग में लेने के लिए जितने भी उत्पाद का निर्माण किया जाता है, उन सभी का व्यवसाय/उद्यम स्थापित करना निश्चित ही एक अच्छे मुनाफे/लाभ का विकल्प है. और आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट और प्लग्स निर्माण व्यवसाय के बारे में विस्तृत जानकारी साझा करने जा रहे हैं.

इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट प्लग्स की मार्केट पोटेंशियल (Market Potential)-

आज हर क्षेत्र में बिजली का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। साथ ही, नए भवनों (कमर्शियल और व्यक्तिगत आवास) के लगातार निर्माण से बिजली की मांग दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। नतीजतन, बिजली के सामान जैसे स्विच, प्लग और सॉकेट आदि की मांग बढ़ रही है।

साल 2020 तक दुनिया भर में बिजली के सामान की खपत लगभग 12.66 बिलियन अमरीकी डॉलर के करीब हो चुकी है, जिसमें लगातार वृद्धि होती जा रही है. यदि आप छोटे या मध्यम स्तर के उद्यम/व्यवसाय को स्थापित कर अपना स्टार्टअप शुरू करना चाहते हैं, साथ ही बिजली के क्षेत्र में (वैकल्पिक तौर पर) आपकी रूचि भी है तो फिर…

आपके लिए बिजली के स्विच सॉकेट और प्लग्स निर्माण व्यवसाय को शुरू करना एक अच्छे मुनाफे का कारोबारी विकल्प साबित हो सकता है. क्योंकि स्विच सॉकेट और प्लग्स निर्माण व्यवसाय में कभी मंदी नहीं आती, वरन दिन-प्रतिदिन मांग बढ़ने के साथ मुनाफा ही मुनाफा होता है.

तो प्रश्न यह है कि बिजली के स्विच सॉकेट और प्लग्स निर्माण व्यवसाय को शुरू करने के लिए किन-किन चीजों, घटकों, मशीनरी, मटेरियल्स के साथ कितने स्थान व कितने तरह के आवश्यक प्रमाणन की आवश्यकता होगी?

स्विच, सॉकेट और प्लग्स निर्माण के लिए रॉ मटेरियल-

अमूमन अच्छी गुणवत्ता के स्विच, सॉकेट और प्लग्स जैसे उत्पादों की लाइफ लगभग 03 से 15 साल तक मानी जाती है. इन स्विच, सॉकेट और प्लग्स का निर्माण करने के लिए एक उद्यमी/व्यवसायीय को विभिन्न तरह के कई रॉ मटेरियल्स/कच्चे माल की आवश्यकता होती है. जैसे-

  1. प्लास्टिक दाना/पैलेट (Plastic Granual)
  2. तांबा/पीतल स्विच कंपोनेंट (Copper/Brass switch connectors components)
  3. फ्यूज धारक (Fuse holders)
  4. स्प्रिंग्स (Springs)
  5. स्क्रू व नट-बोल्ट्स (Screw & Nut-Bolts)

पैकिंग के लिए रॉ मटेरियल-

  1. Poly Plastic sheet
  2. Paper Box Packing
  3. Corrugated Box

कहां से लें-

आप अपने लोकल इलेक्ट्रोनिक्स (मशीन) मार्केट से ले सकते हैं, यदि आपके लोकल मार्केट में यह सामग्री नहीं मिल पा रही है तो इसे आप ऑनलाइन भी आर्डर दे सकते हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट्स की मदद ले सकते है-

  1. dir.indiamart.com
  2. tradeindia.com
  3. या फिर आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं.

आवश्यक मशीनरी-

बिजली के स्विच सॉकेट प्लग निर्माण व्यवसाय में उपयोग की जाने वाली मशीनें मौजूदा भारतीय बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं. साथ ही अत्याधुनिक उन्नत मशीनों को आप विदेशों से भी आयात कर सकते हैं. इसके अलावा यदि आपके पास पर्याप्त धनराशी और संसाधन की कमी है,

इसे भी पढ़ें- बिजनेस में फेल होने के कारण

तो आप इस व्यवसाय से सम्बंधित एक सलाहकार/विशेषज्ञ की सहायता अवश्य लें. स्विच सॉकेट प्लग के निर्माण व्यवसाय/उद्यम को स्थापित करने के लिए इन मशीनों की आवश्यकता होती है-

  1. प्लास्टिक इंजेक्शन मोल्डिंग मशीन डाई के साथ (Plastic injection Molding machine with dye)
  2. बफर मशीन (Buffer machine)
  3. सिरेमिक भरने का उपकरण (Ceramic Inserter)
  4. परीक्षण उपकरण (Testing equipment’s)
  5. आवश्यक अन्य उपकरण (Other Miscellaneous tools)
  6. पैकेट बनाने की मशीन (Packaging machine)
  7. सील लगाने की मशीन (Sealing machine)
  8. लेजर प्रिंटिंग मशीन (Laser printing machine) (वैकल्पिक)

कहां से लें-

आप अपने लोकल इलेक्ट्रोनिक्स (मशीन) मार्केट से ले सकते हैं, यदि आपके लोकल मार्केट में यह सामग्री नहीं मिल पा रही है तो इसे आप ऑनलाइन भी आर्डर दे सकते हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट्स की मदद ले सकते है-

  1. indiamart.com
  2. tradeindia.com
  3. alibaba.com
  4. या फिर आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं.

व्यवसाय में मैनपावर की जरूरत-

अमूमन प्रत्येक स्तर पर प्रत्येक Manufacturing Business या कारोबार, उद्यम अथवा व्यवसाय में मैनपावर या कर्मचारियों की जरूरत पड़ती ही है, व्यवसायिक तौर पर Electric Switch Socket Plugs Manufacturing Business स्थापित करने में कम से कम 03 से 12 मैनपावर या कर्मचारियों की अवश्यकता होती है. ये कर्मचारी- मैनेजर, मार्केटर/सेल्समैन, अकाउंटेंट, कुशल लेबर (skilled labor) व सफाई कर्मी आदि हो सकते हैं.

व्यवसाय शुरू करने के लिए वांछित स्थान-

व्यवसायिक स्तर पर बिजली के स्विच सॉकेट प्लग निर्माण या electrical products manufacturing plant स्थापित करने के लिए कम से कम 1,000 से 2,500 वर्ग फुट के स्थान या जगह की जरूरत होती है, जहां सभी आवश्यक मशीनरी को इन्स्टाल करना, रॉ मटेरियल और तैयार उत्पाद/माल को सुरक्षित रखने का स्थान सुनिश्चित किया गया हो. इसके साथ ही आपके कार्य स्थल में बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना अनिवार्य है।

आपको Electric Switch Socket Plugs की Manufacturing business शुरू करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए जो धूल, मिट्टी, बारिस और नमी आदि घटकों से सुरक्षित हो। यह स्थान अगर किसी कमर्शियल क्षेत्र के अंतर्गत आता है तो सबसे उत्तम है, साथ ही electrical products का कारोबार पूरी तरह से बिजली (Electric) आधारित है, जिस कारण इस व्यवसाय को आम लोगों की सामान्य पहुंच से दूर होना जरूरी है.

कार्य स्थल पर सुरक्षा उपकरण-

  1. कार्य स्थल पर Proper earthing का होना,
  2. प्राथमिक चिकित्सा बॉक्स (First Aid Box) का होना,
  1. कार्य स्थल पर रबर/plastic का मैट का बिछा होना
  2. DG Set Electric panel का होना आदि जरूरी है.

इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग विनिर्माण व्यवसाय का पंजीकरण-

इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग विनिर्माण व्यवसाय को शुरू करने के लिए, आपको अथवा इच्छुक उद्यमी/व्यवसायीय को सरकार से कई लाइसेंस और पंजीकरण प्राप्त करने जरूरी हैं. कारोबार का पंजीकरण आपको भारत सरकार द्वारा निर्धारित किये गए मानक प्रमाण पत्रों से प्रमाणन कराना जरूरी है. ये प्रमाणन हैं-

  • Firm Registration
  • MSME Registration (उद्यम आधार लाइसेंस)
  • Factory License
  • Trade License
  • Trademark License (optional)
  • GST No.
  • NOC Certificate from Pollution Department & Fire Control Board
  • भारत में, भारतीय मानक ब्यूरो (Bureau of Indian Standards) उपलब्ध है. IS:3854:1988 के तहत विनिर्देश – घरेलू व अन्य उद्देश्यों के लिए इलेक्ट्रिक स्विच.
  • इसके अलावा आप ISO सर्टिफिकेशन के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं.

इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट प्लग बनाने की प्रक्रिया (Electrical Switch, Socket, Plugs Making Process)-

प्लास्टिक से इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट प्लग के ढांचे का निर्माण करने के लिए सबसे पहले बताये गए रॉ मटेरियल को ख़रीदा जाता है. इसके बाद यदि आपके पास इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट प्लग के निर्माण की तकनीकी जानकारी है तो आप स्वयं निर्माण शुरू कर सकते हैं.

यदि आपके पास पर्याप्त तकनीकी जानकारी नहीं है तो आप निर्माण सम्बन्धी जानकारी रखने वाले 01 से 02 कमर्चारियों को काम पर रख सकते हैं. इसके बाद इलेक्ट्रिकल स्विच सॉकेट प्लग की निर्माण प्रक्रिया को शुरू किया जाता है-

प्रथम चरण-

  • सबसे पहले प्लास्टिक इंजेक्शन मोल्डिंग मशीन के हॉपर में प्लास्टिक दाना (plastic granual) को भरकर मशीन में वांछित डाई लगाकर start किया जाता है.
  • मशीन on करने के बाद प्लास्टिक दाना (plastic granual) पिघल कर वांछित डाई की सहायता से स्विच, सॉकेट और प्लग के प्लास्टिक केस का निर्माण किया जाता है.
  • ठंडा होने के बाद तैयार स्विच, सॉकेट और प्लग के प्लास्टिक केस में से अतिरिक्त प्लास्टिक को मैनुअल तरीके से अलग निकाल दी जाती है.

दूसरा चरण-

  • प्रथम चरण के बाद प्राप्त स्विच, सॉकेट और प्लग को पॉलिशिंग व उपयोग लायक बनाया जाता है.
  • पॉलिशिंग के बाद तैयार स्विच, सॉकेट और प्लग के प्लास्टिक ढांचे पर तांबा/पीतल स्विच कंपोनेंट (Copper/Brass switch connectors components), फ्यूज धारक (Fuse holders), स्प्रिंग्स (Springs), स्क्रू व नट-बोल्ट्स की कोडांतरण (Assembling) कर उपयोग लायक तैयार किया जाता है.

तीसरा चरण-

  • उपयोग लायक स्विच, सॉकेट और प्लग तैयार हो जाने के बाद प्रत्येक product की टेस्टिंग की जाती है. जहां धातु के टर्मिनलों, कनेक्शनों और स्प्रिंग्स आदि की पूरी टेस्टिंग की जाती है.
  • टेस्टिंग के बाद उत्पाद पर कंपनी का नाम और लोगो व अन्य आवश्यक मार्क जैसे- ISI mark आदि की प्रिंटिंग लेजर प्रिंटिंग मशीन की मदद से प्रिन्ट की जाती है.

चौथा चरण-

  • तीसरा चरण पूरा करने के बाद चौथे चरण में तैयार उत्पाद को पैकिंग के लिए भेज दिया जाता है. जहां प्रत्येक स्विच, सॉकेट और प्लग की Poly plastic sheet में एकल अथवा bulk पैकिंग की जाती है.
  • Poly plastic sheet में पैकिंग के बाद paper box की भी मार्केटिंग के लिहाज से एकल अथवा bulk पैकिंग की जाती है.
  • चौथे चरण के बाद तैयार उत्पाद बाजार में बिक्री के लिए भेजा जा सकता है.

प्रशिक्षण कहां से लें-

इलेक्ट्रिक स्विच, सॉकेट और प्लग्स के निर्माण व्यवसाय में अधिकतर बारीकियों पर ध्यान देना जरूरी होता है. यदि आप किसी विडियो आदि से प्रभवित होकर स्विच, सॉकेट और प्लग्स जैसे उत्पादों का निर्माण शुरू करते हैं तो संभावित है कि आपको नुकसान हो सकता है. तो प्रश्न उठता है कि इलेक्ट्रिक उत्पादों के निर्माण का प्रशिक्षण कहां से प्राप्त किया जा सकता है?

इलेक्ट्रिक उत्पादों जैसे- स्विच, सॉकेट और प्लग्स के निर्माण का प्रशिक्षण आपको वहां से अच्छे से मिल सकता है जहां पहले से कोई कंपनी वांछित व्यवसाय से सम्बंधित बाजार में अपना व्यापार संचालित कर रही हो, यदि आपको ऐसी कोई कंपनी के बारे में नहीं पता है तो आप जहां से मशीनरी खरीदते हैं वहां से भी प्राथमिक product manufacturing ट्रेनिंग/प्रशिक्षण दिया जाता है.

व्यवसाय शुरू करने के लिए शोध (Business Research)-

किसी भी नए व्यवसाय/उद्यम अथवा startup की शुरुआत करने से पहले सम्बंधित व्यवसाय पर शोध/रिसर्च करना सबसे प्राथमिक चरण है और इस चरण को सभी उद्यमियों को प्राथमिकता पर जरूर करना चाहिए. व्यावसायिक शोध/रिसर्च से व्यवसाय के प्रतिस्पर्धियों व बाजार हाल के बारे में सूचना/डेटा एकत्र करने में मदद मिलती है.

मसलन अपने व्यवसाय के प्रतिस्पर्धियों की रणनीति और उनकी विज्ञापन प्रणाली के बारे में भी सूचना तो मिलती है साथ ही आपके प्रतिस्पर्धी अपने उद्यम/व्यवसाय अथवा स्टार्टअप को कैसे आगे बढ़ाते हैं, इसका भी आंकलन लगाया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें- एलईडी लाइटस व्यवसाय कैसे शुरू करें

लोन कहां से मिल सकता है-

लघु उद्योग अंतर्गत आने वाला स्विच, सॉकेट और प्लग्स का उद्यम/कारोबार शुरू करने के लिए आप यदि लोन चाहते है तो भारत सरकार द्वारा संचालित प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMRY) और कौशल विकास योजना के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है.

इसके लिए आपको अपनी कंपनी/एजेन्सी के पंजीकरण संख्या से प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत आवेदन करना होगा. प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन के लिए आप अपने स्थानीय सरकारी बैंक की शाखा से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

अपने Product की मार्केटिंग/प्रचार-प्रसार करना-

यदि आपने छोटे स्तर पर स्विच, सॉकेट और प्लग का कारोबार शुरू किया है तो आपके लिए सबसे अच्छी मार्केट आपकी लोकल मार्केट है. जहां आप अपने तैयार product का प्रचार आसानी से कर सकते हैं साथ ही लोकल मार्केट के खुदरा कारोबारियों को अच्छे मूल्य पर अपना प्रोडक्ट देकर उनसे अपने उत्पाद को बेचने के लिए कह सकते है.

साथ क्षेत्र के व्यापारिक स्थानों पर बैनर, पोस्टर एवं पैम्पलेट के माध्यम से भी प्रचार कर सकते है. अपने उत्पादों को बेचने का दूसरा तरीका यह है कि Affiliate Marketing प्लेटफॉर्म की मदद से अपने उत्पादों को बढ़ावा देना। दो प्रकार की ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइटें हैं-

  1. B2B (Business to Business), जहाँ आप अपने उत्पाद को थोक क्रम में बेच सकते हैं, और
  2. B2C (Business to Consumer), जहाँ आप अपने उत्पाद को सीधे ग्राहक को बेच सकते हैं.

आप अपने उत्पादों की बिक्री बढ़ाने के लिए फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक विज्ञापन प्रसारण भी  शुरू कर सकते हैं. आप अपने ब्रांड के प्रचार के लिए सोशल मीडिया पर सक्रिय प्रभावशाली लोगों को भी रख सकते हैं।

मूल्य निर्धारण करना-

मार्केटिंग करने से पहले आप अपने उत्पाद का एक निश्चित मूल्य (थोक और खुदरा दोनों) प्राथमिक तौर पर जरूर सुनिश्चित करें, आपका तय किया गया उत्पाद मूल्य बाजार में उपलब्ध अन्य सभी उत्पादों की अपेक्षा कम होना चाहिए, यह शुरुवाती व्यापार की रणनीति में से एक है जिसे हर नया व्यापारी जरूर अपनाता है.

कम मूल्य के चलते आप अपने उत्पाद की गुणवत्ता न खोने दे क्योंकि ख़राब Quality के Product कोई नहीं खरीदना चाहता. साथ ही अपने प्रतिस्पर्धी को पहचाने और उसके उत्पाद की तुलना में अपने उत्पाद को बेहतर बनाने की कोशिश करें.

इसे भी पढ़ें- टायर वेस्ट रिसायकल व्यवसाय कैसे शुरू करें

इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग निर्माण व्यवसाय शुरू करने की लागत-

एक छोटे पैमाने पर इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग निर्माण इकाई शुरू करने की लागत कम से कम 25 से 40 लाख की लागत की आवश्यकता होती है. जिसमें आपको रॉ मटेरियल से फिनिश प्रोडक्ट बनाने वाले कर्मियों को काम पर रखना होगा,

साथ ही यदि आपके पास खुद का स्थान/जगह नहीं है तो इसके लिए आपको एक किराए के स्थान (कम से कम 1200 वर्ग फुट या इससे ज्यादा की) लेनी होगी.

इसके अलावा यदि आप स्विच सॉकेट प्लग निर्माण के साथ अन्य सम्बंधित व्यवसाय भी स्थापित करना चाहते हैं तो यह लागत धनराशी बढ़ सकती है.

इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग निर्माण व्यवसाय में मुनाफा-

स्विच सॉकेट व प्लग का कारोबार/उद्यम हर तरह से एक मुनाफे का कारोबार सिद्ध हो रहा है, जहां एक पीस (अलग-अलग क्षमता के) तैयार करने में लगभग 02 से 20 रूपए कीमत का खर्च आता है, वहीं तैयार उत्पाद प्रति पीस खुदरा बाजार में लगभग 10 से 80 रूपए तक 01 साल की warranty (वैकल्पिक) के साथ बिकता या बेंचा जाता है.

उच्च मुनाफे/लाभ और स्विच सॉकेट और प्लग्स का कारोबार/उद्यम के भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए स्विच सॉकेट प्लग का व्यापार/उद्यम, पैसा कमाने का एक अच्छा विकल्प सिद्ध होता जा रहा है.

यदि आप सादे रंग के साथ multi-color के स्विच सॉकेट प्लग्स का निर्माण भी करते हैं तो आपका switch socket plugs manufacturing business profit काफी हद तक और बढ़ सकता है.

इन्हें भी पढ़ें-

टूथब्रश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें

नेल पॉलिश बनाने का व्यवसाय

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतरीन जानकारी प्रदान करना है, जो इलेक्ट्रिक स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण करने अथवा बनाने के व्यवसाय को करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य देख रहे हैं अथवा बनाना चाहते हैं.

नोट किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

अभी तक इस पोस्ट “स्विच सॉकेट प्लग्स निर्माण व्यवसाय” में इतना ही. आशा है आपको इलेक्ट्रिक उत्पादों के व्यापार, उद्यम/कारोबार से जुडी लगभग सारी बाते जरूर पता चली होंगी, यदि कुछ छूट गया हो या इससे संबंधित कुछ पूछना या कहना चाहते हैं तो कृपया comment box में लिखें.

ऐसे ही बिजनेस आईडियाज़ को पाने के लिए वेबसाइट को subscribe करना न भूलें, साथ ही जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों और जरूरतमंदों के साथ share जरूर करें. तब तक के लिए………….

“शुभकामनाएं आपके नए व्यापार और बेहतर भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

जय हिन्द! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular