बिजनेस आईडिया2023 में कैसे शुरू करें सफल कैटरिंग व्यवसाय | How to Start...

2023 में कैसे शुरू करें सफल कैटरिंग व्यवसाय | How to Start Profitable Catering Business in 2023

कैटरिंग व्यवसाय: जैसा कि हम सभी अच्छे से जानते हैं जब भी कोई छोटी-बड़ी पार्टी या शादी-विवाह अथवा कोई समारोह आयोजित किया जाता है, तो मेजबान को अपने मेहमानों के लिए शानदार भोजन आदि का प्रबंधन करना होता है.

इस भोजन के प्रबंधन के लिए या तो मेजबान इसे खुद बनाए या फिर एक कैटरिंग सर्विस की मदद ले. अधिकतर मामलों में इस खानपान के प्रबंधन के लिए किसी कैटर्स (खानपान तैयार करने वाली) की सेवाएं ही ली जाती हैं. 

आज खानपान सेवा व्यवसाय जिसे आम बोलचाल की भाषा में कैटरिंग का बिज़नेस (Catering Business) भी कहा जाता है, बहुत धडल्ले से चल रहा है और इस बिज़नेस के अन्दर व्यवसायीय लाखो रूपया भी कमा रहे है.

सफल-कैटरिंग-व्यवसाय-Profitable-Catering-Business

जिससे यदि कोई अपना छोटा सा कैटरिंग व्यवसाय या कारोबार (Business) शुरु करना चाहता है तो खानपान सेवा व्यवसाय (Catering Business) आसानी से शुरु कर अच्छा मुनाफा या कमाई करने की कई संभावनाए है.

आज हम इस लेख के माध्यम से आपके साथ कैटरिंग व्यवसाय/खानपान सेवा व्यवसाय (Catering Business Plan) से जुडी सभी जानकारियों को साझा करने जा रहे हैं, जिससे यदि आप इस Catering Business के क्षेत्र में आना चाहते हैं तो आपको किन-किन घटकों को ध्यान में रखना होगा.

कैटरिंग का व्यवसाय (बिज़नेस) क्या होता है-

यदि आप कैटरिंग के कारोबार को शुरू करना चाहते है तो यह अनिवार्य रूप से जरूरी हो जाता है कि आपको पता हो कि आखिर कैटरिंग का बिजनेस होता क्या है? समझिये असल में Catering शब्द एक अंग्रेजी भाषा का शब्द है जिसका सामान्य सा मतलब होता है खानपान! अथवा खानपान का प्रबंधन या आहार का प्रबंधन करना. 

बड़े स्तर पर खानपान की सेवा मुहैया कराना या बड़े स्तर पर की गई कैटरिंग ही कैटरिंग बिजनेस (Catering Business) कहलाती है और आज आप किसी भी पार्टी या शादी वैगरह में कैटरिंग सेवा देने वाले बन्दों को भलीभांति देखते ही होंगे.

इसे भी पढ़ें- घर से शुरू करें मसाला उद्योग

कैटरिंग व्यवसाय की संभानाएं-

आज भारत में खानपान कारोबार का अनुमानित व आंकलित आकार लगभग 15,000 करोड़ रूपए से ऊपर का है और बढ़ता जा रहा है, जिसमें प्रत्येक वर्ष लगभग 25-30% की वार्षिक वृद्धि होने की संभावना हमेशा बनी रहती है. चूंकि खानपान सेवा व्यवसाय या कैटरिंग बिजनेस को शुरू करने में प्रारंभिक स्तर पर उच्च निवेश या पूँजी की आवश्यकता होती है. 

जिस कारण यह खानपान सेवा व्यवसाय अथवा कैटरिंग बिजनेस उन लोगों को अधिक संख्या में आकर्षित करता है जिनमें स्वादिष्ट भोजन बनाने की क्षमता है और वे इसका प्रबंधन भी अच्छे से कर सकते हैं.

हालाँकि कैटरिंग बिजनेस में यदि आपको स्वादिष्ट खाना पकाना नहीं आता है तो आप एक कुशल खान-शामा (कुक/बावर्ची) की सेवाएं लेकर भी कैटरिंग का बिजनेस (Catering Business) को शुरू कर सकते हैं. खानपान सेवा व्यवसाय या कारोबार (Catering Business) को शुरू करने के लिए किन-किन घटकों पर ध्यान देना चाहिए-

कैटरिंग व्यवसाय की योजना तैयार करना-

बड़ी मात्रा में गुणवत्तापूर्ण स्वादिष्ट भोजन तैयार करने के लिए अत्यधिक ज्ञान, विशेषज्ञता, अनुभव, स्टाफ का प्रबंधन, स्वादिष्टता की सटीकता और भोजन तैयार करने के बाद उसका उचित प्रबंधन करने की क्षमता की विशेष आवश्यकता होती है, जो कि छोटे स्तर के कैटर्स में बहुतों के पास नहीं होती है। 

यदि आप कैटरिंग कारोबार में अपना नाम बनाना चाहते है तो आपको अपने कारोबार की शुरुआत में कैटरिंग व्यवसाय की एक संपूर्ण लिखित व्यवसाय योजना (Catering Business Plan) तैयार करनी चाहिए। जिससे आपको व्यापार के आवश्यक जरूरी घटकों को समझने व संभावित खर्चों का आंकलन करने में भी सहायता मिलेगी.

कैटरिंग व्यवसाय योजना की आवश्यकता क्यों है?

1. एक सफल खानपान सेवा व्यवसाय/कैटरिंग बिजनेस या किसी भी व्यवसाय को संचालित करने के लिए व्यवसाय के अंतिम लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए एक मांझी हुई रणनीति तैयार करना महत्वपूर्ण हिस्सा है.
2. मार्केट रिसर्च, उत्पाद की गुणवत्ता और विकास, बाजार में आपूर्ति स्तर और विपणन (Marketing) रणनीतियां तैयार करना जरूरी अंग है.
3. व्यवसाय को चालू रखने के लिए पर्याप्त स्टाफ में कुशल कर्मचारियों का चुनाव करना.
4. व्यवसाय के वित्तीय लाभ व जोखिमों का गहराई से आंकलन करना.

कैटरिंग बिजनेस शुरू करने के लिए क्या-क्या जरूरी है-

खानपान सेवा कारोबार में सबसे पहली जरूरत होती है एक कुशल बावर्ची की. यदि आपको स्वादिष्ट खाना पकाना आता है तो सबसे उत्तम और वहीं यदि आपको स्वादिष्ट खाना पकाना नहीं आता है तो आप एक कुशल खान-शामा (कुक/बावर्ची) की सेवाएं लेकर भी कैटरिंग बिजनेस (Catering Business) की शुरूआत कर सकते हैं.

कैटरिंग बिजनेस शुरू करने के लिए इन चीजों की जरूरत प्राथमिकता पर होती है-

  1. भोजन तैयार करने व परोसने वाले बर्तन
  2. खाद्य सामग्री और सब्जियां
  3. मसाले और शुद्ध पेयजल आदि

कैटरिंग (खानपान सेवा) व्यवसाय में मेनू की महत्ता-

खानपान सेवा व्यवसाय या कारोबार में लज़ीज़ पकवानों से भरा मेनू कार्ड किसी भी कैटरिंग सेवा लेने के इच्छुक उपभोक्ता को अपनी ओर आकर्षित करने का काम करता है. जिस कारण इस मेनू कार्ड की कैटरिंग बिजनेस में सबसे अहम भूमिका होती है.

व्यवसायिक तौर पर एक कारोबारी को अपने मेनू कार्ड में उन सभी पकवानों व भोजन सारणी को व्यवस्थित कर छपवाना होता है जिससे वह अपने हर एक ग्राहक को पकवानों व भोजन सारणी के बारे में विस्तार से परिभाषित कर सके. 

सफल-कैटरिंग-बिजनेस-Catering-Business

साथ ही बाजार में मौजूद अन्य कैटरिंग सर्विसेज से खुद की कैटरिंग सर्विस को बेहतर और पकवान अथवा भोजन तैयार करने की विविधता को दिखा सके. इसके साथ ही मेनू कार्ड में पकवानों व भोजन सारणी के रेट (दर) भी स्पष्ट लिखना भी जरूरी होता है.

नोट- मेनू कार्ड बनवाने के लिए आप किसी ग्राफिक डिजाइनर की सहायता जरूर लें.

कैटरिंग व्यवसाय का पंजीकरण-

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FSSAI) खाद्य व्यवसाय संचालक लाइसेंस जारी करता है जो एक लाइसेंस है जो इकाई को विनिर्माण, प्रसंस्करण, पैकेजिंग, भंडारण, परिवहन, भोजन के वितरण, आयात और खाद्य सेवाओं के किसी भी चरण से संबंधित गतिविधियों को करने की अनुमति देता है.

खानपान सेवाएं, भोजन या खाद्य सामग्री की बिक्री के लिए FSSAI खाद्य व्यवसाय लाइसेंस प्राप्त करना अनिवार्य है.

FSSAI फूड बिजनेस लाइसेंस प्राप्त करने के लिए, व्यवसाय के निगमन दस्तावेजों को पते के प्रमाण, प्रमोटरों के पहचान/निवासी प्रमाण और आवेदन प्रारूप के अनुसार विवरण के साथ प्रस्तुत किया जाना चाहिए। राज्य सरकार खानपान सेवा व्यवसायों के लिए FSSAI खाद्य व्यवसाय लाइसेंस जारी करती है. इसलिए स्थानीय FSSAI कार्यालय में आवेदन जमा करें.

टैक्स पंजीकरण-

यदि आपके खानपान सेवा व्यवसाय द्वारा वार्षिक आय 20 लाख रुपये से अधिक हो जाती हैं, तो खानपान सेवा व्यवसाय की सेवाओं पर GST कर लगता है।

बड़े स्तर पर कैटरिंग व्यवसाय वार्षिक बिक्री कारोबार और संचालन की स्थिति के आधार पर जब खानपान सेवा व्यवसाय 20 लाख रुपये से अधिक हो जाए, तो GST टैक्स पंजीकरण अनिवार्य रूप से प्राप्त कर लें साथ ही पंजीकरण के बाद GST का भुगतान भी शुरू कर देना चाहिए।

कैटरिंग व्यवसाय की मार्केटिंग कहां पर करे-

किसी भी व्यवसाय, कारोबार, व्यापार या बिज़नेस को सफल बनाने के लिए उसकी मार्केटिंग करना प्राथमिक और बहुत ही जरुरी घटक होता है. मार्केटिंग को इस उद्देश्य से किया जाता है कि सभी जन सामान्य को वांछित व्यवसाय से जागरूक कर व्यवसाय की पहुंच को दूर-दूर तक पहुंचना होता है.

हालाँकि खानपान सेवा देने का व्यवसाय या कैटरिंग बिजनेस एक सदाबहार चलने वाला कारोबार है, फिर भी आप इसकी मार्केटिंग जरूर करें, शुरूआती स्तर पर आप स्थानीय क्षेत्र के नुक्कड़ों और चौराहों पर बैनर व पोस्टर लगवाने के साथ-साथ पैम्पलेट आदि से प्रचार कर सकते हैं. 

इसके साथ ही आप अपने कारोबार की अच्छी पहचान बनाने के लिए शानदार और बेहद सुन्दर catering business card और brochure आदि का प्राथमिकता पर इस्तेमाल करके व्यवसाय की मार्केटिंग जरूर करें. इसके साथ ही आप अपने स्थानीय मैरिज हाल, लान, होटल्स, ढाबे और चाय, समोसे की दुकानों के आस-पास भी पोस्टर, बैनर अथवा सुविधानुसार जरूर लगवाएं.

FAQ.

कैटरिंग बिज़नेस कहां से शुरु करे?

शुरूआती स्तर पर आपको छोटे छोटे प्रोजेक्ट के साथ अपना बिज़नेस घर से (catering business from home) शुरु करना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप छोटे स्तर पर अपने कारोबार को बिना किसी परेशानी से संचालित करते हैं तो आपको अनुभव तो मिलता ही है साथ आपका बड़े स्तर पर कारोबार फ़ैलाने का मनोबल भी बढ़ता है. 

देखिये कैटरिंग बिजनेस में एक चीज सबसे ज्यादा मायने रखती है और वह है अनुभव! आपके पास जितना अधिक अनुभव होगा, आप उतना बड़ा कारोबार कर पाएंगे और उतना ही अधिक मुनाफा भी ले अथवा कमा पाएंगे.

कैटरिंग का सामान कहां से मिलेगा?

कैटरिंग से संबधित सभी उपकरण व आवश्यक चीजें आपको अपने लोकल मार्केट में आसानी से मिल जाती हैं. यद्यपि यदि आप अथवा इच्छुक उद्यमी कैटरिंग व्यवसाय हेतु उपयोग में लिए जाने वाले सामान जैसे बर्तन, चूल्हे व सम्बंधित उपकरण आदि को किफायती दरों पर (बल्क में) खरीदना चाहता है तो बर्तनों की होलसेल मार्केट की ओर रुख करें.

कैटरिंग सर्विसेज कौन सी होती हैं?

कैटरिंग बिजनेस का मुख्य उद्देश्य बड़े स्तर पर खानपान की बेहतर सेवा प्रदान करना होता है. मसलन जब भी शादी अथवा समारोह आदि आयोजित होता है. तो इन आयोजनों में कैटरिंग की आवश्यकता है.

कैटरिंग व्यवसाय किन चीजों का विशेष ध्यान देना जरूरी है?

व्यवसायिक स्तर पर सफल कैटरिंग बिजनेस स्थापित करने के लिए कुछ विशेष बातों को ध्यान में रखना बेहद ही जरूरी है-
1. कैटरिंग व्यवसाय शुरू करने से पहले मार्केट का गहरा विश्लेषण करना
2. कैटरिंग के कारोबार में निर्धारित मेनू (Organized Menu) के चुनाव पर विशेष ध्यान देना
3. उपभोक्ता/ग्राहक के समक्ष प्रस्तुति करण पर विशेष ध्यान देना व ग्राहक को विशेष अनुभव प्रदान करना
4. कर्मचारियों की स्वच्छता व उनके परिधान/ड्रेस पर ध्यान देना.
5. मंझे हुए खानशामा (बावर्चियों) का चुनाव करना
6. अपने प्रतिस्पर्धियों से हमेशा आगे बढ़ने की कोशिश करते रहना

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो कैटरिंग/खानपान सेवा व्यवसाय अथवा Catering Business ideas पर काम करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘कैसे शुरू करें सफल कैटरिंग व्यवसाय’से खानपान/कैटरिंग बिजनेस, व्यवसाय व कारोबार के बारे में जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें.

यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो और कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को अपने Social Networks जैसे- Face book, Twitter, WhatsApp के साथ अन्य Social media sites पर share कीजिये. अभी तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए.

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular