उत्पाद निर्माणकम लागत में कैसे शुरू करें नोटबुक निर्माण व्यवसाय | How to...

कम लागत में कैसे शुरू करें नोटबुक निर्माण व्यवसाय | How to Start Notebook Making Business with Low Investment in hindi

Notebook Making Business: नोटबुक एक ऐसा संशाधन है जिस पर लेखन, चित्रण व पठन जैसे महत्वपूर्ण कार्य किये जाते हैं, नोटबुक जिसे आम भाषा में कॉपी, रजिस्टर, स्पाइरल, स्क्रैप व ड्राइंग बुक के नाम से भी जाना जाता है और नोटबुक निर्माण व्यवसाय (notebook making business) Stationery Products के तहत आता है.

मौजूदा बाजार में नोटबुक विभिन्न आकार तथा रंग की देखने को आसानी से मिल जाती है. लेखन कार्य के आलावा नोटबुक को short notes बनाने जैसे उद्देश्यों के लिए भी उपयोग में लिया जाता है.

समाज के हर स्तर पर जहां लेखन, अध्ययन व पठन आदि का काम किया जाता है वहां पर नोटबुक को शीर्ष प्राथमिकता पर उपयोग में लिया ही लिया जाता है. व्यवसायिक दृष्टी (business mindset) से आंकलन करने पर यह पूरी तरह से स्पष्ट हो जाता है कि नोटबुक निर्माण व्यवसाय/उद्यम हमेशा से उच्च मुनाफे वाला सदाबहार बिजनेस है.

नोटबुक-निर्माण-व्यवसाय-Notebook-Making-Business

क्योंकि नोटबुक की मांग बाजार में हमेशा बनी ही रहती है और सबसे बड़ी बात की नोटबुक व्यवसाय में कभी भी मंदी का दौर नहीं आता क्योंकि नोटबुक जैसा उत्पाद शिक्षण आदि कार्य के सफल संपादन के लिए प्राथमिक उत्पादों में से एक है.

तो अब प्रश्न उठता है कि यदि आपको अथवा अन्य किसी इच्छुक व्यवसायीय/उद्यमी अथवा कारोबारी को अपना खुद का बिजनेस (नोटबुक निर्माण व्यवसाय) स्थापित करना हो तो किन-किन चीजों, घटकों, मेटेरियल, मशीनरी व पंजीकरण की आवशयकता होगी?

भविष्य के उद्यमियों, व्यवसायियों व कारोबारियों से अनुरोध है कि नोटबुक निर्माण व्यवसाय को शुरू करने या किसी भी व्यवसाय अथवा उद्यम को शुरू करने से पहले वांछित उद्यम Notebook making business plan व बाजार में उत्पाद खपत को गहराई से जरूर समझें,

उसके बाद ही किसी भी प्रकार का निवेश करें. एक सफल कारोबार स्थापित करने व एक सफल उद्यमी/व्यवसायीय बनाने के लिए यह जरूरी है भ्रामक सूचनाओं से दूर रहें… चलिए अब शुरू करते हैं अपने आज के विषय नोटबुक निर्माण व्यवसाय (notebook making business) पर विस्तृत चर्चा को-

अनुक्रमिका

नोटबुक निर्माण व्यवसाय के लिए रॉ मटेरियल (Raw Material for notebook making)-

अमूमन मौजूदा बाजार में आज जिस प्रकार की नोटबुक जैसे- कॉपी, रजिस्टर आदि देखने को मिलते है, मसलन लेखन आदि कार्य के लिए कई तरह के सादे व लाईन वाले कागज (Paper) व जिल्द (covering) के लिए डिज़ाइनर कागजों के उपयोग किया जाता है.

विशेष रूप नोटबुक का निर्माण करने के लिए नीचे बताए गए रॉ मटेरियल/कच्चे माल की आवश्यकता होती है, इस कच्चे माल को किलो के हिसाब से ख़रीदा जाता है-

  1. दिस्ता पेपर रोल (50 से 200 GSM)
  2. नोटबुक कवर रोल (200 GSM)
  3. अन्य सामग्री (स्टेपल पिन, गोंद, आदि..)
  4. पैकिंग सामग्री

इसे भी पढ़ें- कम लागत में मसाला व्यवसाय

नोटबुक निर्माण व्यवसाय के लिए मशीनरी (Machines for Notebook Making Business)-

नोटबुक निर्माण बिजनेस/उद्यम (Notebook Manufacturing Business) स्थापित करने करने के लिए इच्छुक उद्यमी को नोटबुक बनाने वाली मशीनरी कि आवश्यकता होती है. ये मशीनरी हैं-

  • Stitching Machine (Pin up Machine) – कीमत 27,000 रुपये प्रति इकाई से शुरू
  • Edge Squaring Machine – कीमत 1.5 लाख रुपये प्रति इकाई से शुरू
  • Paper Folding Machine – कीमत 75,000 रुपये प्रति इकाई से शुरू
  • Paper Cutting Machine – पेपर कटिंग का काम थोड़े बदलाव के साथ edge squaring machine से किया जा सकता है.
  • Shrink Packing Machine – कीमत 50,000 रुपये प्रति इकाई से शुरू

नोट-

  1. मशीनों का चुनाव उत्पादन की कार्य क्षमता के अनुसार ही करें.
  2. उपरोक्त बताई गई कीमतों बाजार उतार-चढ़ाव के बदलाव संभव है.

कहां से खरीदें (Where to buy)-

Notebook Making Business के तहत लिया जाने वाला कच्चा माल सबसे पहले आप अपने लोकल मार्केट में खोजें, क्योंकि नोटबुक बनाने के व्यवसाय में कच्चे माल की उपलब्धता बहुत ही मायने रखती है. यदि आपके स्थानीय बाजार में कच्चा माल नहीं उपलब्ध है तो आप…. देश के इंडस्ट्रियल क्षेत्रों की और रुख कर सकते है.

व्यवसायिक तौर पर Notebook manufacturing business अंतर्गत नोटबुक बनाने में लिया जाना वाला कच्चा माल व मशीनरी आपको इंडस्ट्रियल क्षेत्रों जैसे- कानपुर, गाजियाबाद, लुधियाना, दिल्‍ली, मुंबई, गुजरात आदि बड़े शहरों में आसानी से मिल जाता है.

इसे भी पढ़ें- घर से शुरू करें चिप्स कारोबार

इसके साथ ही कच्चे माल को ऑनलाइन भी आसानी से ख़रीदा जा सकता है. ऑनलाइन खरीदने के लिए नीचे दी गई वेबसाइट पर अवलोकन कर सकते हैं-

  1. www.indiamart.com 
  2. www.alibaba.com
  3. www.tradeindia.com

नोटबुक बनाने के लिए प्रशिक्षण (Training for Notebook Making)-

कच्चे माल से नोटबुक बनाने के लिए किसी विशेष प्रशिक्षण की आवश्यकता नहीं पड़ती है क्योंकि नोटबुक बनाने का पूरा काम पूरी तरह से ऑटोमेटिक मशीनों द्वारा किया जाता है. और जहां से आप मशीनरी की खरीददारी आदि करेंगे, वहीँ से आपको नोटबुक बनाने की पूरी विधि की जानकारी और आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान कर दिया जाता है.

नोटबुक बनाने की प्रक्रिया (Notebook making process)-

नोटबुक्स बनाने की प्रक्रिया (Notebooks making process) बहुत ही सरल प्रक्रिया है, एक बार मशीनों को ओपरेट होते देख लेने व मशीनों की कार्य प्रणालियों को समझ लेने के बाद किसी भी कुशल श्रमिक अथवा उद्यमी द्वारा स्वयं भी नोटबुक आसानी बनाए जा सकते हैं. नोटबुक निर्माण को 03 चरणों में पूरा किया जाता है-

प्रथम चरण-

  • सबसे पहले वांछित नाप व आकार की नोटबुक (कॉपी, रजिस्टर आदि) को तैयार करने के लिए उस नोटबुक के पन्नो(पृष्ठों) का चयन कर मोड़ लिया जाता है.
  • इसके बाद चयनित पन्नो(पृष्ठों) की नोटबुक (कॉपी, रजिस्टर आदि) को तैयार करने के लिए उस नोटबुक के जिल्द (Cover) को पन्नों के नीचे (ऊपरी भाग पर) लगा दिया जाता है.
  • पन्नो(पृष्ठों) व नोटबुक की जिल्द तैयार हो जाने के बाद दोनों को आपस में पिनअप Stitching Machine (Pin up Machine) किया जाता है. शुरूआती स्तर पर पिनअप के काम पर विशेष ध्यान देना जरूरी होता है.

इसे भी पढ़ें- गोबर से ईंट बनाने का व्यवसाय

दूसरा चरण-

  • पिनअप हो जाने के बाद तैयार नोटबुक को Paper Folding Machine की मदद से फोल्ड किया जाता है.
  • फोल्डिंग हो जाने के बाद तैयार नोटबुक में फिनिशिंग की जरूरत होती है. नोटबुक की फिनिशिंग में नाप से अतिरिक्त पेपर को Edge Squaring Machine की सहायता से काट दिया जाता है.
  • Edge Squaring हो जाने के बाद नोटबुक को वांछित अथवा निर्धारित आकार में Paper Cutting Machine की सहायता से काट लिया जाता है.
  • कटिंग और फिनिशिंग के बाद तैयार नोटबुक या कॉपी बाजार में बेचने लायक आकार में आ जाती है. जिसे उपयोग में लिया जा सकता है.

तीसरा चरण-

  • तीसरे चरण में तैयार नोटबुकों की bulk पैकिंग या दर्जन की दर से श्रींक पैकिंग Shrink Packing Machine की सहायता से करके बाजार में बिक्री के लिए भेज दिया जाता है.
  • यहां दर्जन की दर से की गई पैकिंग में कई छोटे मोटे ऑफर भी सम्बंधित उत्पाद जैसे- पेंसिल, रबर या ज्यामिति के इंस्ट्रूमेंट आदि दिए जा सकते हैं. यह छोटे-छोटे ऑफर मार्केटिंग के लिहाज से लाभकारी विकल्प साबित हो सकते हैं.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय का पंजीकरण (Notebook Making Business Registration)-

किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक है. पंजीकरण/रजिस्ट्रेशन के बाद ही आप अपने उत्पाद का प्रचार व प्रसार मार्केट/बाजार में शुरू कर सकते हैं. पंजीकरण कराने के लिए आपको भारत सरकार द्वारा निर्धारित  प्रमाणों से प्रमाणन करना जरूरी होता है. ये प्रमाणन हैं-

  1. MSME License
  2. GST Registration
  3. Trade License
  4. Trade Mark (If Required)
  5. NOC (State Pollution Control Board)

नोटबुक निर्माण व्यवसाय स्थापित करने के लिए आवश्यक स्थान (Required Place)-

Notebook making business (उद्यम) की फैक्ट्री शुरू करने के लिए कम से कम 1,000 वर्ग फुट स्थान/जगह की आवश्यकता होती है, जहां प्लांट कम से कम 700 वर्ग फुट क्षेत्र (Area) पूरी तरह से धूल, बारिस, मिट्टी व प्रदूषण से ढका (Covered) या संरक्षित होना जरूरी है. 

साथ ही प्लांट में मशीनों के स्थान ऐसे निर्धारित किए गए हों जिससे कर्मचारियों को काम करने एवं कच्चा व तैयार माल सुरक्षित रखने में असुविधा न हो. इस कार्यस्थल/स्थान पर बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना प्राथमिक अनिवार्यता है.

सुझाव (Suggestion)-

आपको नोटबुक निर्माण व्यवसाय शुरू करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए, जहां से रॉ मटेरियल/कच्चा माल लगातार व आसानी से मिल सकता हो. साथ ही आपके प्लांट स्थान पर transportation संबंधी आवागमन (क्रय-विक्रय आदि) की उचित व्यवस्था होनी आवश्यक है. यह स्थान अगर किसी व्यवसायिक क्षेत्र के अंतर्गत आता है तो सबसे उत्तम है.

इसे भी पढ़ें- कम लागत में कैसे शुरू करें डिटर्जेंट साबुन बनाने का बिजनेस

स्थान पर बिजली की आवश्यकता (Require Electricity)-

व्यवसायिक तौर पर नोटबुक बनाने के व्यवसाय में मशीनों आदि के सुगम संचालन के लिए कम से कम 02 से 10 किलोवॉट क्षमता के बिजली कनेक्शन की अवश्यकता होती है. यह क्षमता मशीनों के चयन आधार पर घट-बढ़ सकती है अथवा सुनिश्चित की जा सकती है.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय में मैनपावर की आवश्यकता (Required Manpower)-

अमूमन छोटे-बड़े स्तर के प्रत्येक Manufacturing Business या व्यवसाय में मैनपावर या कर्मचारियों की जरूरत तो पड़ती ही है, व्यवसायिक तौर पर Notebook Making Business अथवा उद्यम/कारोबार शुरू करने में कम से कम 03 से 07 कर्मचारियों/मैनपावर की अवश्यकता होती है. ये कर्मचारी- मैनेजर, सेल्समैन, लेबर व सफाई कर्मी आदि हो सकते हैं.

नोटबुक उत्पाद की मार्केटिंग (Marketing in Notebook Business)-

नोटबुक व्यवसाय में नोटबुक जैसे उत्पाद की मार्केटिंग कोई ख़ास आवश्यकता नहीं होती, बशर्ते निर्मित उत्पाद की गुणवत्ता (Quality) उत्तम होनी जरूरी है. उत्तम गुणवत्ता के कारण नोटबुक आसानी से बाजार में बिक जाती है, हां यदि इच्छुक उद्यमी/व्यवसायीय बाजार में पहले मौजूद नोटबुक उत्पादों से प्रतिस्पर्धा करना चाहता है तो फिर निर्मित नोटबुक की मार्केटिंग करना जरूरी हो जाता है.

इसे भी पढ़ें- घर से कैसे शुरू करें यूएसबी केबिल निर्माण व्यवसाय

शुरूआती स्तर पर ऐसे स्थानों व उन ग्राहकों को ध्यान में रखकर प्रचार करना होता है, जो सबसे अधिक मात्रा में नोटबुक का उपयोग करते हैं, साथ ही मार्केटिंग करने से पूर्व इच्छुक उद्यमी/व्यवसायीय को यह बात सुनिश्चित करनी जरूरी है कि उसके संभावित उपभोक्ता/ग्राहक किस-किस आयु वर्ग से आते है.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय शुरू करने की कुल लागत (Total Business Cost in Notebook Manufacturing)-

छोटे स्तर पर नोटबुक निर्माण व्यवसाय या नोटबुक उत्पाद बनाने के कारोबार में लागत कम से कम 02 से 05 लाख रूपये तक आ जाती है, जिसमें व्यवसाय स्थापित करने के लिए चयनित स्थान की लागत शामिल नहीं है.

वही यदि आप नोटबुक बनाने के व्यवसाय को माध्यम से बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते हैं तो बड़े स्तर पर Notebook making business plant को स्थापित करने के लिए कम से कम 12 से 30 लाख रुपये की आवश्यकता होगी, जिसमें चयनित स्थान यदि किराये का है तो लागत में आंशिक बदलाव हो सकता है. 

नोटबुक निर्माण व्यवसाय शुरू करने के लिए ऋण (Loan for Notebook Making Business)-

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना, प्रधानमंत्री रोजगार योजना (PMEGP) आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है.

इसके लिए आपको अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन करना होगा. सरकारी योजनाओं के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय सरकारी बैंक की शाखा से आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय में मुनाफा (Profits in Notebook Making Business)-

नोटबुक बनाने के व्यवसाय में मुनाफा प्रति नोटबुक कम से कम 20 से 50 प्रतिशत तक होता है, औसतन लेखन कार्य में ली जाने वाली 01 नोटबुक का निर्माण (25 से 50 पृष्ठों) करने में 07 से 12 रूपये तक खर्च आता है, जिसे खुदरा बाजार में 15 से 35 रुपये प्रति नोटबुक की दर से सामान्यत: बिक्री की जाती है.

FAQ.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय में कितने तरह के उत्पाद बनाए जा सकते हैं?

नोटबुक निर्माण व्यवसाय के तहत कई तरह के दैनिक उपयोग में लिए जाने वाले उत्पादों का निर्माण किया जाता है. मसलन-
1. नोटबुक निर्माण (Notebook Making)
2. नोटपैड निर्माण (Notepad Making)
3. लेटर पैड निर्माण (Letter pad Making)
3. स्थानीय बाजार के लिए बिल बुक का निर्माण (Bill Book Making)
4. फैंसी डायरियों का निर्माण (Fancy Dairy Making)

नोटबुक बिजनेस के साथ और कौन सा बिजनेस किया जा सकता है?

यूं तो एक ही बिजनेस पर्याप्त होता अच्छा मुनाफा कमाने के लिए, लेकिन यदि मूल व्यवसाय से सम्बंधित यदि व्यवसाय है तो मुनाफा बढ़ाने की दृष्टी से उसे अपनाना एक बेहतर विकल्प है.

नोटबुक निर्माण व्यवसाय के साथ पैकेजिंग का व्यवसाय एक शानदार combination है, और ये एक-दूसरे relate भी करते हैं. साथ ही इन्हें कम पूँजी निवेश के साथ आसानी से संचालित भी किया जा सकता है.

अंत में-

अगर बात की जाए पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाले व्यवसाय की तो नोटबुक बनाने का व्यवसाय (Notebook making business) पीढ़ियों तक लाभ पहुचाने वाला कारोबार है जो इस वाक्य को पूरी तरह से सार्थक बनाता है. इसके साथ ही यदि इच्छुक उद्यमी अथवा व्यवसायीय द्वारा एक चरणबद्ध रणनीति के साथ शुरू किया गया कोई भी उद्यम/व्यवसाय हमेशा ही पीढियों तक चलता ही चलता है.

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो नोटबुक बनाने के व्यवसाय को करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख नोटबुक निर्माण व्यवसाय कैसे शुरू करें से notebook making business/व्यवसाय, उद्यम अथवा कारोबार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. लेख में डी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों, social media व जरूरतमंद के साथ share करना न भूलें… तब तक के लिए-

शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular