बिजनेस आईडियाLow Cost Business Idea: Commercial Pressure Washing Business | कमर्शियल प्रेशर वाशिंग...

Low Cost Business Idea: Commercial Pressure Washing Business | कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस (Commercial Pressure Washing Business): हम जानते हैं कि साफ-सफाई जीवन को सुचारू रूप से चलाने की एक प्रमुख प्रक्रिया है और आज शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे सफाई पसंद न हो. चीजें जब साफ होती हैं तो दिखने में सुन्दर होने के साथ उनमें एक अनोखा आकर्षण भी समाहित होता है, इसके साथ ही सफाई को royalty का भी प्रतिक माना जाता है.

हम हमारे दैनिक जीवन को शानदार और आकर्षक बनाने के लिए कई घटकों/उत्पादों का इस्तेमाल करते है. जैसे-जैसे उपयोग के आधार पर चीजें (विशेषकर व्यावसायिक संपत्तियां जैसे- घरेलू उत्पाद, वाहन, इमारतें, सड़कें, संरचनाए व अन्य) पुरानी होती हैं,

वे पहले के मुकाबले मैली भी हो जाती हैं, अवांछित गंदगी (धूल/मिटटी) के कारण उन व्यावसायिक संपत्तियों की गुणवत्ता भी प्रभावित होती है. ऐसे में यदि समय समय पर इस्तेमाल की जा रही व्यावसायिक संपत्तियों की साफ-सफाई की जाए तो उनकी उपयोगिता दर को बड़ी ही आसानी से लम्बे समय ता बढाया जा सकता है.

Business-Idea-Pressure-Washing-Business-प्रेशर-वाशिंग-बिजनेस

इस अवांछित गंदगी (धूल/मिटटी) को साफ करने के लिए प्रेशर वाशिंग मशीन का उपयोग किया जाता है. भारत में अभी प्रेशर वाशिंग बहुत ही सीमित दायरे (वाहनों की सफाई तक ही) में हैं, लेकिन जैसे-जैसे जागरूकता बढ़ रही है, कई उद्यमी इसमें एक innovative startup business की संभावनाओं को देख रहे हैं.

प्रेशर वाशिंग बिजनेस को कम लागत के साथ छोटे स्तर पर भी आसानी से शुरू किया जा सकता है. आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ Commercial Pressure Washing Business idea पर विस्तार से जानकारी साझा करने जा रहे हैं. यदि आप ऐसे कारोबार की तलास में हैं जिसे कम लागत में शुरू कर अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता हो? तो इस पोस्ट को अंतिम तक जरूर पढ़ें.

तो कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस स्थापित करने के लिए इच्छुक उद्यमी को किन-किन तथ्यों व घटकों को समझना जरूरी है, साथ ही इस व्यवसाय का पंजीकरण कहां से कराना होता है, इस व्यवसाय में कितनी लागत का निवेश करना पड़ेगा और मुनाफा कितना हो सकता है. इन सभी प्रश्नों के समाधान से पहले जानते हैं कि प्रेशर वाशिंग बिजनेस की संभावनाएं क्या-क्या हो सकती हैं.

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस की संभावनाएं-

स्वच्छता के प्रति लगातार बढ़ती जागरूकता ने कमर्शियल प्रेशर वाशिंग जैसे business model को लोकप्रियता की बुलंदियों पर पंहुचा दिया है. जैसा कि ऊपर बताया गया है कि प्रेशर वाशिंग का प्रयोग पहले वाहनों जैसे-मोटर साइकिल, कार, ट्रक एवं बस जैसे वाहनों की धुलाई तक ही सीमित हुआ करता था.

लेकिन जब से कांच/सीसे की संरचना से बनी इमारतों की सफाई, इमारतों के सौन्दर्यीकरण के लिए इमारतों की सफाई (बालकनी, छत, कारपेट) व सड़कों को साफ रखने की कवायद शुरू हुई है, तब से प्रेशर वाशिंग के बिजनेस में मुनाफे की संभावनाएं लगातार बढ़ती ही जा रही है.

प्रेशर वाशिंग बिजनेस का आर्थिक महत्व-

बदलते फैशन के दौर में सामान्यत: लोगों के पास इतना समय नहीं होता है कि वे गंदे/मैले हो चुकी वस्तुओं को खुद से साफ कर पाए. यहीं पर प्रेशर वाशिंग का कांसेप्ट सबसे अहम भूमिका में आ जाता है. यहाँ एक प्रश्न यह है कि-

लोग प्रेशर धुलाई क्यों कराते हैं?

प्रेशर वाशिंग कम समय में (जल्दी से) की जाने वाली अन्य की अपेक्षा सस्ती और टिकाऊ होती है और उन स्थानों/कोनों को भी बिना किसी क्षति के अच्छी तरह से सफा कर सकती है, जहां साधारण रूप से सफाई कर पाना कठिन होता है.

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग (commercial pressure washing) सुव्यवस्थित तरीके से निर्धारित किट का उपयोग कर की जाती है, जिससे नपी-तुली मात्रा में ही पानी की आवश्यकता होती है. एक वाहन के लिए एक प्रेशर वॉश की कीमत लगभग 50 से 1000 रूपये तक (वाहन आकार अनुसार) हो सकती है जिसमें वाहनों की पॉलिशिंग भी शामिल है.

Car-Pressure-Washing-Business-प्रेशर-वाशिंग-बिजनेस

वही यदि मैली सतहों (इमारतों) की सफाई की बात की जाए तो भारत में एक सफाई विशेषज्ञ प्रेशर वॉश के लिए 100 रूपये प्रति sqft से लेकर 1000 रूपये प्रति sqft तक अथवा इससे ऊपर/नीचे की दरें निर्धारित कर सकता है. यह दरें (prices for pressure washing) इमारत की उंचाई व क्षेत्रफल पर निर्धारित की जाती हैं, जो समयानुसार बदलती रहती हैं.

सफल बिजनेस मॉडल-

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस मॉडल छोटी लागत में पूरी तरह से एक सफल बिजनेस मॉडल ही है. छोटे स्तर पर इस बिजनेस की शुरुआत कर कारोबार बढ़ने पर इसे आसानी से बड़े स्तर पर विस्तारित किया जा सकता है. प्रेशर वाशिंग बिजनेस को बड़े स्तर पर विस्तारित करने के लिए बिजनेस की फ्रेंचाइजी देना एक असरदार चरणों में से एक है.

प्रेशर वाशिंग बिजनेस में ज्यादा मैनपावर की आवश्यकता नहीं होती है, साथ ही इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए सीमित संसाधनों सहित एक ही बार लागत का निवेश करना पड़ता है. तो प्रश्न यह है कि प्रेशर वाशिंग के बिजनेस में किन-किन चीजों व घटकों की आवश्यकता होती है? आइये विस्तार से समझते हैं-

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस के आवश्यक घटक-

अमूमन किसी भी व्यवसाय की सफल शुरुआत करने के लिए उन मूभूत घटकों पर विचार कर एक प्रभावी बिजनेस प्लान बनाना जरूरी होता है, जिनकी मदद से उस वांछित बिजनेस का सफलतापूर्वक संचालन किया जा सकता है. आइये एक-एक कर समझते हैं-

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस के लिए स्थान चयन-

व्यवसायिक स्तर पर प्रेशर वाशिंग बिजनेस को स्थापित करने के लिए इच्छुक उद्यमी को कम से कम 500 sqft स्थान की आवश्यकता होती है, जिसमें 120 sqft धुलाई स्थान (washing area), 100 sqft कार्यालय स्थान (office area) शेष स्थान पर सफाई के लिए आयी हुई व साफ हो चुकी व्यावसायिक संपत्तियों के लिए संरक्षित किया जाता है.

आपके चयनित स्थान पर बिजली, पानी व पानी की निकासी की पर्याप्त व्यवस्था का होना अनिवार्य है. आपका चयनित स्थान किसी कमर्शियल स्थान के अंतर्गत आता हो तो सबसे उत्तम है, क्योंकि कमर्शियल स्थान पर लगातार आवागमन बना रहता है. जिससे कारोबार के पनपने और सफल होने की सम्भावना को बल मिलता है.

सुझाव-

  • आपके कार्य स्थल पर जल संग्रहण (water storage) के लिए बड़ा water tank होना अनिवार्य है.
  • कार्य स्थल पर कारोबार स्थापित कर लेने के बाद इच्छुक उद्यमी को अपने बिजनेस की मार्केटिंग व बिजनेस का प्रचार व प्रसार करना अनिवार्य है. स्थानीय क्षेत्र पर विज्ञापन का सहारा लेना सकारात्मक पहल है.
Low-Cost-Business-Idea-Pressure-Washing-Business-प्रेशर-वाशिंग-बिजनेस

व्यवसाय के लिए आवश्यक उपकरण और मशीनरी-

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस की शुरुआत के लिए सबसे पहली जिस चीज की आवश्यकता होती है वह है एक प्रेशर वाशिंग किट (Pressure Washing kit), जिसमें-

  1. Water Proof Kit for washer man
  2. High pressure washer pump/water pump,
  3. Pressure washer gun
  4. Double Coated/long lasting Flexible PVC Pipes
  5. Different types of pressure washing nozzle
  6. MOP Items like (Scrubbing brush, Wipers, Ladders etc)
  7. Detergent powder/Liquid detergents & polishing products etc.

कहां से लें-

प्रेशर वाशिंग बिजनेस में सभी मशीने ऑटोमेटिक ही आती हैं। ये मशीने आप अपने लोकल मशीनों के मार्केट से खरीद सकते हैं। यदि आपके क्षेत्र में ये मशीने नहीं मिल पा रही हैं तो इन मशीनों को आसानी से ऑनलाइन नीचे बताई गई वेबसाइटों से भी खरीदा जा सकता है। 

  • www.indiamart.com
  • www.alibaba.com
  • www.tradeindia.com

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस में आवश्यक मैनपावर-

छोटे अथवा बड़े दोनों स्तरों पर प्रेशर वाशिंग बिजनेस को सफलतापूर्वक संचालित करने के लिए आवश्यक मैनपावर की आवश्यकता होती है क्योंकि इस को सफल बनाने के लिए कई स्तरों पर काम करना पड़ता है, जो कि अकेले एक व्यक्ति के लिए थोड़ा कठिन होता है.

छोटे तौर पर व्यवसाय के शुरूआती चरण में इच्छुक उद्यमी को कम से कम कुशल (विषय विशेषज्ञ) 02 कर्मचारियों की आवश्यकता होती है. जिसमें उद्यमी द्वारा कार्यालय संभालने व ग्राहक समन्वय का कार्य आसानी से किया जा सकता है. वहीं चयन किये गए 01 मैनपावर द्वारा प्रेशर वाशिंग मशीन व सफाई उपकरण संचालन का कार्य तथा दूसरे मैनपावर के द्वारा वैक्सिंग व पॉलिशिंग का काम किया जा सकता है.

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस की लागत-

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस में मूल लागत कर्मचारी वेतन, क्लीनिंग उत्पाद (मासिक खर्च) के अलावा ऑफिस सेटअप व सम्बंधित मशीनरी (one time investment) पर ही आती है. व्यवसाय से सम्बंधित मशीनरी को मासिक ईएमआई भुगतान पर उपयोग में लिए जा सकता है.

छोटे स्तर पर व्यवसाय स्थापित करने के लिए इच्छुक उद्यमी को व्यवसाय के शुरूआती चरण में अधिकतम 02 से 05 लाख रूपये का निवेश करना पड़ सकता है. जिसमें चयनित स्थान (किराये का) की लागत भी शामिल है.

इसके अलावा मशीनरी की टूट-फूट व रिपेयरिंग पर भी समय-समय पर थोड़ी लागत आती रहती है. साथ ही शुरूआती चरण में इमारतों व घरों आदि की सफाई के लिए पानी के टैंकर की खरीद अथवा किराए पर भी ले सकते हैं, जिसकी कीमत ज्यादा नहीं होती है.

मौजूदा समय के अनुसार प्रेशर वाशिंग बिजनेस को भारत में केवल वाहनों जैसे- कार के लिए (car pressure washing), बस के लिए (bus pressure washing) व दोपहिया वाहन के लिए (bike pressure washing) के अलावा कारपेट सफाई के लिए बड़े स्तर पर उपयोग में लिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- नई रणनीति के साथ करें रीसाइक्लिंग बिजनेस में प्रवेश

लेकिन लगातार बदलते समय के चलते प्रेशर वाशिंग के बिजनेस में कई नई सम्भावनाये बनना शुरू हो गई है. लोग अपने घरों की मैली छत, बालकनी, छज्जे व पार्किंग क्षेत्र की फर्श की सफाई करने की पेशकश करने लगे हैं.

ऐसे में प्रेशर वाशिंग किट से लैस एक मोबाईल कैब/वैन प्रेशर वाशिंग के बिजनेस को विस्तारित करने के साथ बेहतर मुनाफा कमाने का विकल्प साबित हो सकती है. इच्छुक उद्यमी प्रेशर वाशिंग किट से लैस मोबाईल कैब/वैन को अपनी इच्छानुसार भी (custom) बनवा सकते हैं. कस्टम मेड मोबाईल कैब/वैन बनवाने के लिए आप fire brigade water truck से प्रेरणा ली जा सकती है.

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस के लिए License-

जैसा की हम सभी लोग जानते है कि किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए सरकार द्वारा निर्धारित मानक प्रमाणन से पंजीकरण कराना जरूरी होता है. Business registration से स्पष्ट होता है कि आप कौन सा और किस प्रकार बिजनेस संचालित कर रहे है, साथ ही कारोबार पंजीकरण से आप सरकार के नजर में भी सुरक्षित/लीगल रहते है.

तो प्रेशर वाशिंग बिजनेस का पंजीकरण कराने के लिए इच्छुक उद्यमी को नीचे सुझाए गए लाइसेंस से पंजीकरण कराना अनिवार्य है-

  1. ROC (Registrar of Companies)
  2. GST Number
  3. BIS (Quality Control) Certificate
  4. One Bank Account का होना जरूरी है.
  5. Trade Mark register for Brand Name/Business Name
  6. N.O.C from Pollution Control Board

इसके अलावा जैसे-जैसे आपका बिजनेस बढ़ेगा आपको ISO Certificate, Liability Company Insurance जैसे पंजीकरण पर विचार करने की आवश्यकता है.

व्यवसाय के लिए लोन-

अपनी फर्म/कंपनी या एजेंसी के रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण के तहत आप किसी भी प्राइवेट, सरकारी बैंक से अथवा किसी investor से लोन के लिए apply कर सकते हैं. जो आपको आपके व्यवसाय स्तर के आंकलन के मुताबिक लोन दे सकता है.

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा संचालित प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP), कौशल विकास योजना व मुद्रा लोन आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है.

इसके लिए आपको अपनी कंपनी/एजेन्सी या फर्म के पंजीकरण संख्या के साथ व्यवसाय की कार्ययोजना (business plan) बनाकर आवेदन करना होगा. सरकारी योजनाओं के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने स्थानीय/लोकल सरकारी बैंक की शाखा से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

प्रेशर वाशिंग बिजनेस की मार्केटिंग-

प्रेशर वाशिंग के बिजनेस में सबसे मुख्य घटक ब्रांड वैल्यू होता है, जिसे बनाने के लिए इच्छुक उद्यमी को मार्केटिंग की विभिन्न रणनीतियां बनाने की आवश्यकता होती है. शुरूआती चरण में आप अपने व्यवसाय का प्रचार करने के लिए बैनर, पोस्टर व फ्लैक्स आदि को उपयोग में ले सकते हैं.

अमूमन भारत के लगभग प्रत्येक भाग में वहां का स्थानीय परिवहन होता है, जिनके उपयोग से आमजन आवागमन करते हैं. ऐसे में यदि स्थानीय परिवहन के वाहनों पर बैनर व फ्लैक्स लगाकर प्रेशर वाशिंग बिजनेस का प्रचार किया जाए तो यह प्रभावी मार्केटिंग रणनीति है, जिससे कम समय में ही वांछित बिजनेस का कम लागत में बड़े स्तर पर प्रचार हो जाता है.

इसी के साथ ऐसे स्थानों पर पोस्टर व बैनर प्राथमिकता पर जरूर लगायें, जहां पर व्यवसाय के संभावित उपभोक्ता की सम्भावना बनती हो. यह स्थान हो सकते है- सभी गैरेज/वाहन रिपेयरिंग सेंटर, नुक्कड़ टी स्टाल, ढाबे और मार्केट के वह स्थान जहां अमूमन लोगों का जमाव बना रहता हो.

आप प्रेशर वाशिंग बिजनेस को ऑनलाइन भी सोशल मीडिया अथवा किसी योग्य संगठन से भी जुड़कर मार्केटिंग के दायरे को बढ़ा सकते है. न्यूनतम शुल्क विज्ञापन प्रसारण के लिए Instagram, Facebook तथा Google my business listing का उपयोग किया जा सकता है, जो आपको आपके क्षेत्र के लक्षित ग्राहकों तक पहुँचने में मदद कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें- Biofloc Fish Farming Business

इसके साथ ही इच्छुक उद्यमी को अपना और अपने बिजनेस का एक सुन्दर और effective business visiting card अनिवार्य रूप से जरूर बनवाना चाहिए, असल में विज़िटिंग कार्ड के वितरण से व्यवसाय से जुड़ने वाले ग्राहकों का दायरा बढ़ता है जो बिजनेस में सफल होने और अच्छे मुनाफा कमाने के लिए जरूरी होता है.

कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस में मुनाफा-

प्रेशर वाशिंग बिजनेस पहले दिन से ही मुनाफा देने लगता है. उपभोक्ता स्वयं स्टोर/स्टेशन पर आकार अपने वाहन आदि की सफाई कराने के लिए आते है. व्यवसायिक तौर पर बेहतर मुनाफा बनाने के लिए इच्छुक उद्यमी को अपने वाशिंग सर्विस का एक प्रभावी ब्रोशर बनवाए जिसमें सड़कों, अपार्टमेंट, व्यावसायिक भवनों आदि की धुलाई/सफाई की दरें निर्धारित की गई हों.

इस ब्रोशर को मार्केटिंग के जरिये सबसे पहले अपने स्थानीय क्षेत्रों में वितरित कर विस्तारित करना एक कारगर रणनीति साबित हो सकती है. ऐसे करने से संभावित ग्राहको की जागरूकता बढ़ेगी, जिससे जल्द ही आपके बिजनेस का विस्तार होगा, साथ ही घरेलू सामग्री, ईमारत व व्यवसायिक स्थानों पर भी प्रेशर वाशिंग का काम मिल सकता है.

थोड़े से शोध से आप अपने संभावित ग्राहक की खोज कर सकते हैं. कांच अथवा सीसे से बनी खिडकियों, अपार्टमेंट में फर्श/दीवार/बालकनी व पालतू जानवरों के रहने वाले स्थानों की प्रेशर वाशिंग के लिए न्यूनतम दरें निर्धारित करने के बाद भी महीने के 30 से लेकर 50 हजार रूपये का मुनाफा आसानी से बनाया जा सकता है.

अंत में-

धुलाई व्यवसाय अथवा हाई प्रेशर वाशिंग बिजनेस छोटे स्तर पर शुरू किया जाने वाला कम लागत वाला कारोबार है, साथ ही मांग बढ़ने पर इस बिजनेस को बड़े स्तर पर आसानी से विस्तारित किया जा सकता है, जैसे-जैसे मांग बढ़ती है मुनाफा भी गुणन के आधार पर बढ़ता जाता है, जो इस व्यवसाय के उद्यमी को हर प्रकार से सक्षम बनाने का काम करता है.

शुरूआती चरण में प्रेशर वाशिंग बिजनेस को विकसित करने में थोड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है, जैसे-जैसे आप इस बिजनेस में पुराने होते जाते हैं, आपको सफलता की बुलंदियों पर पहुचने से कोई रोक नहीं सकता.

इसके साथ ही प्रेशर वाशिंग बिजनेस में हमेशा अग्रणी बने रहने के लिए आपको चीजों को करने के नए तरीकों की तलाश करते रहना चाहिए और नई-नई तकनीको को अपनाने से बिल्कुल न शर्माएं.

आशा है इस लेख “कैसे शुरू करें कमर्शियल प्रेशर वाशिंग बिजनेस (commercial washing business)” से आपको low investment business idea- Commercial pressure washing business के बारे में विस्तृत जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही यदि कुछ छूट गया हो या कुछ कहना या पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में लिखें…. पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने साथियों व जरूरतमंद लोगों के साथ share करना बिल्कुल न भूलें, आपका एक share शायद किसी को नई दिशा दिखा दे……

“शुभकामनाएं आपके सफल व्यवसायिक/कारोबारी भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular