बिजनेस आईडिया कम लागत वाले 7 जबरदस्त बिजनेस आईडिया | Top 7 Low...

[2023] कम लागत वाले 7 जबरदस्त बिजनेस आईडिया | Top 7 Low Investment Business Idea in hindi [2023]

Low Investment Business idea: कम पैसे लगाकर अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना आज कौन नहीं चाहता? बिजनेस जहां लाभ संभावनाओं की कोई सीमा नहीं है, और एक सफल बिजनेस की शुरुआत हमेशा एक शानदार विचार (business idea) से होती है. 

मौजूदा समय में अधिकतर कई नए और उभरते हुए व्यवसायियों और उद्यमियों को अपना खुद का व्यवसाय या कारोबार शुरू करने के लिए एक सही मार्ग-दर्शन नहीं मिल पाता है, जिस कारण अधिकतर नए और उभरते व्यवसायी व उद्यमी अपने व्यवसाय के startup के कुछ महीनों बाद फेल हो जाते हैं. 

7-जबरदस्त-बिजनेस-आईडिया-Top-7-Low-Investment-Business-Idea

फेल होने का मूल कारण हो सकता है कि बिजनेस शुरू करने की प्रेरणा ऐसे स्थानों से हांसिल की हो जहां लुभावने दृश्य दिखाये गए हों या प्रेरणा बातें सुनाई गयी हों. यदि आप भविष्य के एक सफल उद्यमी, व्यवसायी अथवा कारोबारी बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ऐसी चीजों से परहेज करना जरूरी है जहां पर भ्रामक जानकारी दी जाती हो. अपने व्यवसाय में सफल होने के लिए यह सबसे जरूरी कदम है जो आपको प्राथमिकता पर उठाना है.

इसके बाद बिजनेस शुरू करने की लिए बारी आती है मतलब एक शानदार Low investment business idea की. एक सफल उद्यमी बनने के लिए सबसे पहले इच्छुक उद्यमी को ऐसे business plan की जरूरत होती है जिसे low investment के साथ आसानी से घर (कम लागत का बिजनेस) से भी शुरू किया जा सकता हो और लागत के बदले में अच्छा मुनाफा भी कमाया जा सकता हो.

इसी क्रम में आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ कम लागत वाले 07 जबरदस्त बिजनेस आईडिया (most successful small business ideas) की जानकारी साझा करने जा रहे हैं, जिन्हें आप (इच्छुक उद्यमी) अपने घर (small business ideas from home) से भी कम लागत (Low Investment) लगाकर आसानी से शुरू कर सकते है और बदले में अच्छा पैसा (मुनाफा/लाभ-Profit) भी शुरूआती स्तर पर कमा सकता है. तो चलिए बिना समय गवाएं शुरू करते हैं-

अगरबत्ती/धूपबत्ती बनाने का बिजनेस (Low investment Business idea Agarbatti/Dhoopbatti Manufacturing)-

सबसे पहले बात करते हैं धूपबत्ती/अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय की तो धूपबत्ती/अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय में काफी संभावनाएं हैं क्योंकि बाजार में इसकी मांग हमेशा उच्च स्तर पर बनी ही रहती है साथ ही धार्मिक उत्सवों और त्योहारों के दौरान अगरबत्ती/धूपबत्ती की खपत बहुत ही अच्छी खासी बढ़ जाती है. 

मौजूदा समय में अगरबत्ती/धूपबत्ती का उपयोग लगभग 90 से अधिक देशों में किया जाता है. हमारा देश भारत एक मात्र ऐसा देश है जो इन अगरबत्तियों व धूपबत्तियों का निर्माण वृहद स्तर पर करता है और दुनिया भर के सभी देशों की मांग को पूरा करता है।

top-low-investment-business-idea-agarbatti-making-business

यदि आप अगरबत्ती/धूपबत्ती बनाने का व्यवसाय शुरू करने की सोच रहें है तो सबसे पहले आपको किसी भी तरह का निवेश करने से पहले agarbatti/dhoopbatti manufacturing business plan को अच्छे से समझना जरूरी है. 

जब आप या इच्छुक उद्यमी द्वारा अगरबत्ती/धूपबत्ती निर्माण व्यवसाय की बारीकियां और उत्पाद निर्माण प्रक्रिया सीख लें तब ही इस व्यवसाय में निवेश करें. अगरबत्ती/धूपबत्ती निर्माण व्यवसाय को आसानी से इच्छुक उद्यमी द्वारा छोटे स्थान (अपने घर) से भी शुरू किया जा सकता है. 

चूंकि अगरबत्ती/धूपबत्ती व्यवसाय जो कि एक low investment business idea है, लगभग पूरी तरह से मार्केटिंग आधारित व्यवसाय है. इसलिए यदि आप इस कारोबार को शुरू करना चाहते हैं तो बाजार में उतरने से पहले आपको अपने उत्पाद की अच्छी मार्केटिंग करनी जरूरी है. अच्छी मार्केटिंग बदले में अच्छा मुनाफा भी देती है. की गई उमदा मार्केटिंग के अनुरूप आपको एक अच्छा बाजार मिल जाएगा.

अगरबत्ती/धूपबत्ती बनाने के लिए इन रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है-

  1. चारकोल पाउडर 
  2. लकड़ी का पाउडर/बुरादा
  3. जोश/जिग्गत पाउडर
  4. पोटैशियम नाइट्रेट
  5. साफ जल/पानी
  6. बांस स्टिक 08 से 12 इंच
  7. परफ्यूम्स (अतर-इत्र)

इन रॉ मटेरियल्स को आपस में मिलाकर पेस्ट तैयार कर लिया जाता है, उसके बाद अगरबत्ती/धूपबत्ती बनाने वाली मशीन से या हाथों से प्रोसेस कर अगरबत्ती/धूपबत्ती तैयार कर ली जाती है. अंतिम चरण में तैयार कच्ची अगरबत्ती/धूपबत्तीयों को perfumes की कोटिंग की जाती है. कोटिंग के बाद PP पोलीथिन में सील पैक कर आगे बाजार में बिक्री के लिए भेज दिया जाता है.

अगरबत्ती/धूपबत्ती विनिर्माण व्यवसाय कम लागत वाला जबरदस्त बिजनेस आइडिया है जिसकी शुरुआत इच्छुक उद्यमी या व्यवसायी द्वारा अपने घर से भी आसानी से की जा सकती है.

इसे भी पढ़ें- India’s most profitable agriculture business idea

चाक बनाने का बिजनेस (Low investment business idea Chalk Making)-

चाक बनाने का व्यवसाय सदाबहार चलने वाला एक ऐसा व्यवसाय (Small scale business idea) है जिसे बहुत ही कम पूँजी का निवेश कर आसानी से शुरू किया जा सकता है और वो भी अपने घर से (low investment business idea start from home).

लगभग 60 प्रतिशत प्रशिक्षण/शिक्षण संस्थानों (शहरी अथवा ग्रामीण) में, चाक का उपयोग शिक्षण उद्देश्यों के लिए ब्लैक-बोर्ड या ग्रीन-बोर्ड पर किया जाता है. चाक जिसकी सामान्य लंबाई 75 mm और गोलाई 09 mm होती है. 

चाक का उपयोग आज विभिन्न क्षेत्रों जैसे- शिक्षण, टेलरिंग, फर्नीचर निर्माण आदि के साथ कई अन्य क्षेत्रों में भी किया जाता है. शिक्षण के क्षेत्र में तो चाक का प्रयोग प्राचीन काल से होता आ रहा है और आज भी हो रहा है.

चाक बनाने के लिए इन रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है-

  1. Plaster of Paris (P.O.P.)
  2. Water
  3. Natural Colors

इन रॉ मटेरियल्स को आपस में मिलाकर तरल पेस्ट तैयार कर लिया जाता है, उसके बाद चाक बनाने वाली मशीन से प्रोसेस कर कच्ची चाक तैयार कर ली जाती है. अंतिम चरण में तैयार कच्ची चाक को छायादार जगह पर लगभग 24 से 48 घंटो तक सुखाया जाता है. सूख जाने के बाद तैयार चाक को डिब्बों में पैक कर आगे बाजार में बिक्री के लिए भेज दिया जाता है.

चाक व्यवसाय (chalk business) कम लागत वाला जबरदस्त बिजनेस आइडिया है जिसकी शुरुआत इच्छुक उद्यमी या व्यवसायी द्वारा अपने घर से भी आसानी से की जा सकती है.

एंटीसेप्टिक तरल बनाने का बिजनेस (Antiseptic Liquid Making Business)-

एंटीसेप्टिक तरल एक सिद्ध प्रभावी रोगाणुनाशक कंसंट्रेटेड तरल पदार्थ है जो जीवाणुओं/रोगाणुओं को मारने का काम करता है और ऐसे बैक्टीरियाओं से सुरक्षा/संरक्षण प्रदान करता है जो हमारे लिए संक्रमण रोग का कारण बन सकते हैं. 

मूलतः एंटीसेप्टिक तरल का उपयोग संक्रमण फ़ैलाने वाले खतरनाक बैक्टीरियाओं से बचाव व सफाई के लिए किया जाता है. 1930 के दशक में सबसे पहले एंटीसेप्टिक तरल का उपयोग अस्पतालों में किया गया था.

जहां सफलता मिलने के बाद इस एंटीसेप्टिक तरल ने शीघ्र ही लगभग घरों में अपना एक अलग ही स्थान स्थापित कर लिया जो आज भी कायम है. 

विगत कुछ साल पहले जब से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (COVID-19) ने दुनिया में दस्तक दी है तब से अभी तक एंटीसेप्टिक तरल (स्वच्छता तरल) के उपयोग में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है साथ ही भविष्य में और बढ़ने की सम्भावना भी है. 

उपयोगिता और आवश्यकता का आंकलन करने पर एंटीसेप्टिक तरल बनाने का व्यवसाय जो कि low investment business idea के तहत ही आता है, निश्चित ही एक उच्च लाभ का व्यवसाय सिद्ध हो चुका है. जिसे बहुत ही कम लागत (low investment) में घर से भी शुरू (business from home) किया जा सकता है.

यदि आप अथवा अन्य कोई इच्छुक व्यवसायी/उद्यमी एंटीसेप्टिक तरल बनाने के व्यवसाय को शुरू करता है तो शुरुआती स्तर पर भी अच्छा मुनाफा कमा सकता है. एंटीसेप्टिक तरल बनाने के लिए नीचे बताए गए रॉ मटेरियल/कच्चे माल की आवश्यकता होती है-

  1. Phenol- 1.5 Liter
  2. SLES- 250 ml
  3. Methanol- 2.5 Liter
  4. Chloroxylenol- 1.5 Liter
  5. Pine Oil- 1.5 Liter
  6. Color (optional)

एंटीसेप्टिक तरल बनाने की विधि (antiseptic liquid making process)-

  • उपरोक्त सुझाए गए सभी मटेरियल्स/घटकों को क्रमवार एक-एक कर किसी प्लास्टिक, कांच अथवा स्टील के पात्र में मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें.
  • प्राप्त मिश्रण ही वांछित एंटीसेप्टिक तरल है, बाजार भेजने से पहले इस तरल को 6 से 8 घंटो के लिए संतुलित होने के लिए ढककर छोड़ना जरूरी होता है.

नोट- उपरोक्त बताई गई विधि/प्रक्रिया के अलावा भी अन्य तरीकों से एंटीसेप्टिक तरल का निर्माण किया जा सकता है.

एंटीसेप्टिक तरल बनाकर बाजार में बिक्री के लिए भेजने से पहले कौन सी प्रक्रिया करना अनिवार्य है?

एंटीसेप्टिक तरल की बिक्री से पूर्व बनाये गए तरल की जाँच किसी प्रतिष्ठित लैब द्वारा कराना अनिवार्य चरण है.

जंग/रस्ट क्लीनर बनाने का बिजनेस (Low Investment Business Idea Rust Cleaning Liquid Making Business)-

धातुओं से बनी अधिकांश वस्तुओं जैसे- औजार, मशीनरी आदि जिनका उपयोग व्यवसायिक व व्यक्तिगत दोनों रूप में किया जाता है, जंग के कारण समय से पहले ही ख़राब या उपयोग लायक नहीं बच पाती हैं. जंग जिसे धातुओं का काल भी कहा जाता है, से मुक्ति पाने के लिए उपयोगी धातुओं व धातुओं से बनी वस्तुओं को नमी से बचाना जरूरी है, 

क्योंकि किसी भी धातु/मेटल पर जंग तब ही लगती है जब मेटल लंबे समय तक पानी अथवा नमी के संपर्क में रहता है, तो इससे उस पर जंग लग जाना स्वभाविक प्रक्रिया है। सामान्यत: जंग टूल्स, आउटडोर फर्नीचर, कार अथवा मेटल से बनी किसी भी पर आसानी से लग सकती है। 

ऐसे में अधिकतर के लिए उस सामान का समुचित उपयोग कर पाना किसी भी तरह से बेहतर नहीं है. यहीं पर आ जाता है रस्ट क्लीनर व्यवसाय की अवधारणा. अगर आप भी रस्ट क्लीनर बनाने का व्यवसाय शुरू करने की सोच रहें हैं तो अब आपको नीचे बताए गए रॉ मटेरियल्स की आवश्यकता होगी. 

  1. Potassium Oxalate- 2.5 Kg
  2. Methyl Cellulose- 2.5 Kg
  3. Water- 20 Kg

रस्ट क्लीनर बनाने की विधि (process of rust cleaning liquid making)-

  • उपरोक्त सुझाए गए सभी मटेरियल्स/घटकों को क्रमवार एक-एक कर किसी कांच, स्टील अथवा प्लास्टिक के पात्र में मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें.
  • प्राप्त मिश्रण ही वांछित रस्ट/जंग सफाई तरल है, बाजार भेजने से पहले इस तरल को 6 से 8 घंटो के लिए संतुलित होने के लिए ढककर छोड़ना जरूरी होता है.

नोट- उपरोक्त बताई गई विधि/प्रक्रिया के अलावा भी अन्य तरीकों से रस्ट क्लीनिंग तरल का निर्माण किया जा सकता है.

जंग रोधक तरल बनाने का व्यवसाय की लागत कितनी आती है?

घरेलू स्तर पर जंग रोधक/रस्ट क्लीनिंग बिजनेस स्थापित करने के लिए लगभग 10,000 रूपये की लागत आना संभावित है.

नेल पॉलिश बनाने का व्यवसाय (Low investment business idea Nail Polish Paint Making Business)-

लगातार बदलते परिवेश और फ़ैशन विविधता के कारण मौजूदा समय में नेल पॉलिश बनाने का व्यवसाय एक अच्छा विकल्प है, और नेल पॉलिश की उच्च मांग भी बाजार में हमेशा बनी ही रहती है क्योंकि नेल पॉलिश जैसा उत्पाद मुख्यतः महिलाओं को सौन्दर्य/कॉस्मेटिक समर्पित उत्पाद है.

नेल पॉलिश का कारोबार शुरू करने या नेल पॉलिश के व्यवसाय में उतरने से पहले किसी भी इच्छुक उद्यमी या कारोबारी को नेल पॉलिश बनाने की पूरी प्रक्रिया व उत्पाद की मार्केटिंग अच्छे से आनी चाहिए, 

यदि आप नेल पॉलिश के व्यवसाय में अपना सुदृण भविष्य बनाने के इच्छुक हैं तो यह जरूरी हो जाता है कि आप सबसे पहले नेल पॉलिश जैसे उत्पाद की मार्केटिंग और निर्माण की प्रक्रिया अच्छे से सीख लें. उसके बाद ही किसी भी तरह का निवेश करें क्योंकि नेल पॉलिश उत्पाद पूरी तरह से मार्केटिंग आधारित उत्पाद है.

नेल पॉलिश बनाने के लिए नीचे बताये गए रॉ मटेरियल्स या कच्चे माल की आवश्यकता होती है-

  1. Nitro cellulose- 10 ग्राम
  2. Santolite MHP (राल)- 10 ग्राम
  3. Dibutyl Phthalate (Plasticizer)- 3 ग्राम
  4. Ethyl Alcohol (Diluent)- 6 g
  5. Ethyl Acetate (Solvent)- 20 g
  6. Butyl Acetate (Solvent)- 15 g
  7. Toluene (Solvent)- 36 g

विस्तृत जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें- नेल पॉलिश बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें

नेल पॉलिश बनाने के लिए मुख्य घटक क्या होते हैं?

नेल पॉलिश बनाने के लिए मुख्य रूप से 02 घटकों की आवश्यकता होती है-
1. cellulose
2. Acetate

शेविंग क्रीम बनाने का बिजनेस (Shaving Cream Making Business)-

फोम शेविंग क्रीम बनाने के बिजनेस की शुरुआत भी कम लागत (low investment) के साथ बहुत ही सरलता से की जा सकती है. अनचाहे बाल मसलन- दाड़ी, बगल व योनि के अलावा बॉडी के अन्य अनचाहे बाल, जिन्‍हें समय-समय पर हटाना आवश्‍यक होता है को हटाने के लिए शेविंग फोम क्रीम का उपयोग किया जाता है.

मौजूदा फैशन के दौर में महिला या पुरूष दोनों को ही अपने शरीर को सुन्दर व आकर्षक बनाए रखने के लिए अनचाहे बालों को शेव करना ही पड़ता है. उपयोगिता की दृष्टी से मौजूदा समय में शेविंग क्रीम बनाने का बिजनेस, इच्छुक उद्यमी के लिए एक मुनाफे का विकल्प है.

तो प्रश्न यह है कि शेविंग क्रीम को बनाने के लिए इच्छुक उद्यमी को किन-किन मटेरियल्स की आवश्यकता होती है? और शेविंग क्रीम बनाने की विधि क्या है? आइये चर्चा करते हैं. सबसे पहले जानते हैं कि शेविंग क्रीम को बनाने के लिए कौन-कौन से कच्चे माल की अवाश्यकता होती है-

  1. Stearic Acid- 5 Gm
  2. SLES- 15 Gm
  3. Coco Glucoside- 15 Gm
  4. Decyl Glucoside- 15 Gm
  5. Glycerin- 2 ml
  6. Water- 50 ml
  7. Packaging Material (tube, jar)

क्या घर से शेविंग क्रीम मेकिंग बिजनेस शुरू किया जा सकता है?

जी हां! यह पूरी तरह से संभव है. छोटे स्तर अथवा घर से शेविंग क्रीम मेकिंग बिजनेस शुरू करने के लिए इच्छुक उद्यमी को सबसे पहले अपने उद्यम का पंजीकरण कराना अनिवार्य है.

घरेलू स्तर पर शेविंग क्रीम मेकिंग बिजनेस शुरू करने के लिए निवेश लागत लगभग 25 से 30 हजार रूपये आना संभावित है.

हैंडमेड चॉकलेट बनाने का बिजनेस (Handmade Chocolate making Business)-

खुद को आत्मनिर्भर, सक्षम, सफल बनाने की चाह रखने वाले सभी उद्यमियों को चॉकलेट बनाने के बिजनेस में जरूर रूचि लेनी चाहिए, क्योंकि चॉकलेट बनाने का बिजनेस लघु उद्योग के अंतर्गत आने वाला एक शानदार बिजनेस आईडिया है, जिसे low investment के साथ बड़ी ही आसानी से शुरू कर शुरूआती स्तर पर आसानी से मुनाफा भी बनाया जा सकता है.

चॉकलेट बनाने का बिजनेस वास्तव में इच्छुक उद्यमी को अन्य तमाम बिजनेस की अपेक्षा अधिक सपनों को नई उड़ान देने में सक्षम है. चॉकलेट मेकिंग बिज़नेस की शुरुआत 15,000 से भी कम पूंजी लगाकर की जा सकती है. मौजूदा समय में चॉकलेट के उपभोक्ता ब्रैंडेड चॉकलेट ख़रीदने की अपेक्षा होममेड चॉकलेट की मांग करने लगे हैं.

जिससे हैंडमेड/होममेड चॉकलेट की मांग लगातार बढती जा रही है. यदि आप अपने भविष्य को नई राह देना चाहते हैं, साथ आने वाले समय में खुद को एक सफल उद्यमी के तौर पर स्थापित करने की इच्छा रखते हैं तो चॉकलेट बनाने का बिजनेस जो कि एक low investment business idea है, आपके लिए एक मुनाफे का विकल्प साबित हो सकता है.

चॉकलेट बिजनेस की विस्तार से जानकारी पाने के लिए पोस्ट पढ़ें- Chocolate business कैसे शुरू करें.

बिजनेस के लिए लोन-

देखिये! बिजनेस कैसा भी हो, पूंजी की आवश्यकता तो होती ही है. बिजनेस में की गई निवेश लागत पर ही हर एक उद्यमी का नफ़ा-नुकसान निर्धारित होता है. low investment business की शुरुआत करने के लिए यदि इच्छुक उद्यमी के पास पर्याप्त निवेश पूंजी न हो, तो आवश्यक पूँजी की उपलब्धता के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएं भी संचालित की गई है. जो इस प्रकार हैं-

  1. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना,
  2. प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना (PMEGP)
  3. कौशल विकास योजना

इसके अलावा इच्छुक उद्यमी प्राइवेट बैंक से लोन के लिए आवेदन भी कर सकता है. सरकार लगभग सभी लघु उद्योगों का सृजन करने में मदद करती है. योजनाओं के तहत ऋण/लोन लेने के लिए व्यवसाय का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, व्यवसाय पंजीकरण पर सरकार द्वारा विशेष सहूलियतें भी दी जाती हैं.

सरकारी योजनाओंके तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय या स्थानीय सरकारी बैंक की शाखा से आवशयक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतरीन जानकारी प्रदान करना है, जो अपने बिजनेस/व्यवसाय को उच्चतम शिखर तक पहुंचने के इच्छुक हैं और अपने निर्मित उत्पाद अथवा सेवा से अच्छा मुनाफा भी कमाना चाहते हैं.

नोट- किसी भी बिजनेस को अपनाने से पहले वांछित कारोबार की बाजार/मार्केट रिसर्च एवं उपलब्धता का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपक बिजनेस के तहत आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और की गई रिसर्च के आधार पर डिमांड के अनुरूप आप अपने बिजनेस को अच्छे से विस्तारित भी कर पाएंगे.

आशा है इस लेख “कम लागत वाले 7 जबरदस्त बिजनेस आईडिया” से आपको low investment business idea से सम्बंधित प्रश्नों का समाधान और अपना उद्यम स्थापित करने सम्बंधी जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों व जरूरतमंदों के साथ share करना न भूलें. अभी तक के लिए इतना ही-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए.”

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular