उत्पाद निर्माणघर से शुरू करें लघु उद्योग चाक बिजनेस | Chalk Making Business...

घर से शुरू करें लघु उद्योग चाक बिजनेस | Chalk Making Business in Hindi

चाक बिजनेस शुरू करने की प्रक्रिया, Small scale business ideas, chalk business plan, आवश्यक कच्चे माल और मशीनरी के प्रकार, निर्माण प्रक्रिया, लाभ (chalk business profit) और लागत पर चर्चा-

यदि आप ऐसे बिजनेस की खोज में हैं जिसमें कम लागत लगाकर अच्छा मुनाफा भी कमाया जा सकता हो तो आप सही जगह पर पहुंच चुके हैं. जी हां! यह पूरी तरह से मुमकिन है, चाक बिजनेस मतलब चाक बनाने का व्यवसाय (chalk making business) सदाबहार चलने वाला एक ऐसा बिजनेस है जिसे बहुत ही कम पूँजी का निवेश कर आसानी से शुरू किया जा सकता है और वो भी अपने घर से.

लघु-उद्योग-चाक-बिजनेस-Chalk-Making-Business

लगभग 60 प्रतिशत प्रशिक्षण/शिक्षण संस्थानों (शहरी अथवा ग्रामीण) में, नोटबुक से पहले चाक का उपयोग शिक्षण उद्देश्यों के लिए ब्लैक-बोर्ड या ग्रीन-बोर्ड पर किया जाता है. चाक जिसकी सामान्य लंबाई 75 mm और गोलाई 09 mm होती है.

चाक का उपयोग आज विभिन्न क्षेत्रों जैसे- शिक्षण, टेलरिंग, फर्नीचर निर्माण आदि के साथ कई अन्य क्षेत्रों में भी किया जाता है. शिक्षण के क्षेत्र में तो चाक का प्रयोग प्राचीन काल से होता आ रहा है और आज भी हो रहा है.

चाक बिजनेस का महत्व व उपयोगिता (Importance of Chalk making business)-

अमूमन मौजूदा बाजार में चाक विभिन्न आकृतियों, आकार व कई रंगों जैसे- सफेद, लाल, हरे, गुलाबी और पीले रंग में उपलब्ध होती है. इन सब तथ्यों व चाक की उपयोगिता को देखते हुए चाक बनाने का बिजनेस कम निवेश में बड़े लाभ को इंगित करता है और यदि आप चाक बनाने के बिजनेस को करना चाहते हैं

तो इसके लिए सबसे पहले आपको चाक बिजनेस प्लान (chalk making business plan) को अच्छे से समझना जरूरी हो जाता है, साथ ही चाक बनाने सम्बन्धी सभी घटकों की भी जानकारी लेना जरूरी है.

तो आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ चाक बिजनेस के बारे में मसलन चाक निर्माण कारोबार (chalk manufacturing business) की विस्तृत जानकारी साझा करने जा रहे हैं-

जहां आपको चाक बनाने के रॉ मटेरियल, मशीनरी, बिजनेस का पंजीकरण, बिजनेस शुरू करने के लिए लागत व मुनाफा आदि के साथ चाक के प्रमुख उपभोक्ताओं के बारे में जानकारी साझा की जाएगी. तो चलिए शुरू करते है-

चाक बिजनेस/उत्पाद के ग्राहक-

सबसे पहले बात करते हैं चाक जैसे उत्पाद के प्रमुख उपभोक्ता कौन-कौन से होते हैं? तो आप इन उपभोक्ताओं को पहले से ही जानते होंगे, नीचे इन उपभोक्ताओं की सूची दी गई है, जो आज भी सबसे बड़ी मात्रा में चाक को अपने  उपयोग में लेते हैं. ये उपभोक्ता हैं-

  1. प्राथमिक विद्यालय, स्कूल व कॉलेज
  2. टेलर्स,
  3. कारपेंटर्स,
  4. अन्य जहां पर Temporary मार्किंग का काम होता है.

चाक बनाने के लिए रॉ मटेरियल-

चाक का निर्माण करने के लिए कुछ सामान्य रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है और ये रॉ मटेरियल आसानी से बाजार में मौजूद किसी भी हार्डवेयर (सीमेंट, पेंट) की दुकानों से खरीदा जा सकता है.

चाक बनाने के बिजनेस (chalk making business) में मुख्य तौर पर जिन रॉ मटेरियल/कच्चे माल की आवश्यकता होती है, वह इस प्रकार है-

  1. Plaster of Paris (P.O.P.)- 980 Gm.
  2. China Clay/White Cement- 20 Gm.
  3. Lubricants Oils- 250 Gm.
  4. Water
  5. Natural Colors

चाक बिजनेस में मशीनरी और औजार-

चाक बनाने के बिजनेस में मुख्य रूप से 01 ही मशीन का उपयोग किया जाता है. हालांकि चाक बनाने की सांचा मशीन 02 तरह की आती है, इसके साथ ही कुछ tools और हाथों के दस्तानों की भी आवश्यकता होती है.  

  1. Aluminum Metal Machine

OR

  • Gun Metal Machine (कीमत- 42,000 रूपए प्रति पीस से शुरू- मैनुअल मशीन– 10,000 रूपए प्रति पीस से शुरू)
  • Scrappers (कीमत- 25 रूपए प्रति पीस से शुरू)
  • 2 inch Brush & Rubber Gloves
  • Dryer Machine (कीमत- 55,000 रूपए प्रति पीस से शुरू)
  • बाल्टी (कीमत- 50 रूपए प्रति पीस से शुरू)

सुझाव-

  • यदि आप लम्बे समय के लिए चाक बनाने का कारोबार स्थापित करना चाहते हैं तो मेरे सुझाव से आप Gun Metal Machine का चुनाव ही करें, हालाँकि Aluminum Metal Machine भी अच्छी होती है, पर Gun Metal Machine की durability (टिकाऊपन) Aluminum Metal Machine से अधिक होती है.
  • यह मशीने मैनुअल और ऑटोमेटिक दोनों वेरियंट में आती हैं, और अलग-अलग निर्माण क्षमता की होती हैं. मेरे सुझाव से आप चाक बनाने का बिजनेस प्रारंभिक स्तर पर शुरू करने के लिए मैनुअल मशीन का ही चुनाव करें.
चाक-बनाने-का-बिजनेस-Chalk-Making-Business

कहां से लें-

उपरोक्त मशीनरी को आप अपने लोकल इलेक्ट्रोनिक्स मार्केट से ले अथवा बनवा सकते हैं यदि लोकल बाजार में यह मशीने नहीं मिल पा रही हैं तो इसे आप ऑनलाइन नीचे दी गई वेबसाइटस से खरीद सकते हैं-

  1. www.indiamart.com 
  2. www.kishorikirpa.com
  3. www.exportersindia.com
  4. www.alibaba.com
  5. या फिर आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते हैं।

नोट-

उपरोक्त बताई गई कीमतें मार्केट रिसर्च आधार पर हैं, बाजार के उतार-चढ़ाव के कारण ये कीमतें घट अथवा बढ़ सकती हैं.

चाक बिजनेस के लिए आवश्यक स्थान-

चाक बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए इच्छुक उद्यमी/कारोबारी को कम से कम 250 sqft और अधिक से अधिक 500 sqft के स्थान की आवश्यकता होती है, यदि आपके घर पर पर्याप्त स्थान उपलब्ध है तो चाक बनाने के बिजनेस की शुरुआत आप अपने घर से भी आसानी से शुरू कर सकते हैं.

चाक निर्माण बिजनेस शुरू करने के लिए आपके चयनित स्थान पर छत व साफ पानी आदि की व्यवस्था का होना आवश्यक है. साथ ही चयनित स्थान पर कच्चे व तैयार माल को सुरक्षित रखने के स्थान भी सुव्यवस्थित किया जाना जरूरी है.

चाक बनाने की विधि-

चाक बनाने की विधि/प्रक्रिया को … चरणों में पूरा किया जाता है-

प्रथम चरण-

चाक बनाने के लिए सबसे पहले एक पात्र (बाल्टी) को लेना होता है, इसके बाद हाथों में दस्ताने पहनना होता है.

इसके बाद बताई गई मात्रा के अनुसार पानी पात्र में भर देना होता है, फिर इस पानी में बताई गई मात्रा के अनुसार Plaster of Paris (P.O.P.) और China Clay/White Cement को आपस में मिलाकर पानी में हांथ से या किसी क्षण से अच्छे से मिलाना है.  यह process लगभग 10 मिनट में पूरी हो जाती है.

दूसरा चरण-

इसके बाद चाक सांचा मशीन Gun Metal Machine के छिद्रों में ब्रश से Lubricants Oils की कोटिंग की जाती है, इसके बाद पानी में मिलाकर Plaster of Paris (P.O.P.) और China Clay/White Cement के तैयार मिश्रण को मशीन की सतह डालकर Scrapper की मदद से सांचे के प्रत्येक छिद्र पर धीरे-धीरे फैलाकर भरा जाता है.

जहां यह मिश्रण सांचों में जाकर 10 से 15 मिनटों में चाक के आकार में बदल जाती है, करीब 15 मिनटों के बाद मशीन में लगी मैनुअल ड्रिल की मदद से सांचों से कच्ची चाक को निकाल दिया जाता है. अभी प्राप्त चाक मुलायम व कच्ची होती है.

तीसरा चरण-

प्रारंभिक चाक बन जाने के बाद इन चाकों को एक छायादार स्थान पर सूखने के लिए लगभग 24 से 48 घंटों के लिए रख दिया जाता है. सुखाने के लिए आप Dryer Machine का भी उपयोग कर सकते हैं. लगभग 30 घंटों बाद प्राप्त चाक पूरी तरह से उपयोग में लिए जाने को तैयार हो जाती है, इसके बाद इसे पैककर बाजार व वांछित ग्राहक की पहुंच तक भेजा जाता जाता है.

चाक बिजनेस का पंजीकरण-

कोई भी बिजनेस या कारोबार शुरू करने से पहले एक उद्यमी को अपने बिजनेस या कारोबार की कम्पनी/फर्म का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन लेना होता है.

चाक बनाने के बिजनेस को शुरू करने के लिए उद्यमी को अपनी फर्म का पंजीकरण ROC (Registrar of Companies) के तहत करने के बाद फर्म के नाम से एक बैक खाता खोलना अनिवार्य है। इसके बाद…

  1. MSME
  2. GST No.
  3. Trade license
  4. स्थानीय प्राधिकरण की अनुमति (Local Authority Permission)

चाक बिजनेस पर लागत-

चाक बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए इच्छुक उद्यमी/कारोबारी को कम से कम 45,000 से 50,000 (GST extra) रूपये की धनराशी का निवेश करना संभावित होता है. निवेश की यह लागत मशीन, पंजीकरण व रॉ मटेरियल के चुनाव पर घट अथवा बढ़ सकती है.

यदि आप चाक बनाने के बिजनेस में आने के इच्छुक हैं तो आपने YouTube पर ढेरों वीडियो को खंगाला जरूर होगा, जहां पर कुछ लोग आधी-अधूरी जानकारी देकर नए उद्यमियों को बरगलाने का काम करते हैं, जिससे हो सकता है कि आपको आपभी संतुष्टि नहीं मिल पाई हो… खैर….

यदि आप चाक बनाने के कारोबार में या किसी भी बिजनेस में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप वांछित बिजनेस की समस्त जानकारी जरूर हांसिल करें, जिससे भविष्य में आपको जोखिमों का सामना न के बराबर करना पड़े.

चाक बिजनेस की मार्केटिंग-

चाक जैसे उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए चाक की पैकेजिंग भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसलिए बाजार में चाक को आसानी से बेचना शुरू करने के लिए आपको बेहतर गुणवत्ता की चाक निर्माण और उसकी पैकेजिंग प्रदान करने की आवश्यकता है. डोर टू डोर मार्केटिंग का उपयोग करके चाक की बिक्री शुरू की जा सकती है।

इसके साथ ही सीमित व वांछित ग्राहकों तक पहुंचने के लिए डिजिटल व सोशल मीडिया पर मार्केटिंग तथा प्रचार गतिविधियां भी की जा सकती हैं। ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म B2B, B2C जैसे- Amazon, Flipkart, Trade India और Indiamart पर भी रजिस्टर कर सकते हैं.

प्रारंभिक स्तर पर चाक की बिक्री के लिए स्थानीय बाजार की दुकानों जैसे- स्टेशनरी, प्राइमरी स्कूल से लेकर बड़े कॉलेज, प्रशिक्षण संस्थान, हार्डवेयर की दुकानों, फर्नीचर निर्माण दुकानों आदि के साथ होलसेल बाजार से संपर्क कर भी शुरू की जा सकती है.

इसके अलावा, आप चाक की बिक्री बढ़ाने के लिए आस-पास के शहरों, गांवों और कस्बों का दौरा भी कर सकते हैं। आपूर्ति का प्रबंधन करने के लिए एक डिलीवरी पर्सन को भी काम पर रखा जा सकता है।

चाक बिजनेस में मुनाफा-

गुणवत्ता के आधार पर चाक बनाने के बिजनेस में मुनाफा लगभग 20 से 40 प्रतिशत तक संभव है. लगभग प्रत्येक चाक क्षण का वजन 05 से 07 ग्राम तक ही होता है. अमूमन 01 किलो P.O.P. कच्चे माल से लगभग 300 चाक क्षण आसानी से बनाई जा सकती हैं.

1000 चाक क्षण बनाने में लागत 90 रुपये तक आती है इसके अलावा, धूल रहित (Dust free) चाक के निर्माण में यह लागत बढ़ सकती है. प्रति किलो चाक विनिर्माण में लगभग 10 से 13 रूपए खर्च आता है,

जिसे होलसेल बाजार में 100 रुपये प्रति 1,000 पीस के हिसाब से बेचा जाता है। बिक्री के आधार पर चाक बनाने के बिजनेस में मुनाफा प्रति माह 15,000 से 50,000 रुपये तक आसानी से लिया अथवा कमाया जा  सकता है.

चाक बनाने की मशीन कीमत कितनी होती है?

व्यवसायिक स्तर पर चाक बनाने की मशीन 02 प्रकार की होती है-

1. Aluminum Metal Machine (कीमत- 69,000 रूपए प्रति पीस से शुरू)
2. Gun Metal Machine (कीमत- 42,000 रूपए प्रति पीस से शुरू)

चाक का उपयोग कहां-कहां पर होता है?

आज भी कुछ स्थानों पर जैसे- प्राथमिक विद्यालय, स्कूल व कॉलेज, टेलर्स, कारपेंटर्स व अन्य जहां पर Temporary मार्किंग का काम होता है, चाक का उपयोग सबसे बड़ी मात्रा में किया जाता है. ये उपभोक्ता हैं-

अंत में-

चाक बनाने के बिजनेस को शुरू करने के लिए इसे छोटे पैमाने पर शुरू करना बहुत ही लाभदायक विकल्प है. जिसे इच्छुक उद्यमी/कारोबारी द्वारा कम निवेश में शुरू कर ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है.

हर साल नए स्कूल और कॉलेजों में चाक की मांग मजबूत होने के साथ बढ़ भी रही है और चाक बनाने में ज्यादा जगह की जरूरत भी नहीं होती तथा इसका कच्चा माल भी आसानी से उपलब्ध हो जाता है।

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो चाक बनाने के बिजनेस को करने के इच्छुक हैं और इस बिजनेस में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको बिजनेस में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख लघु उद्योग चाक बिजनेस कैसे शुरू करें से चाक निर्माण उद्योग (chalk making business), व्यापार व कारोबार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular